comScore
Dainik Bhaskar Hindi

कम्पोस्ट डिपो में डेढ़ माह से उठ रही आग की लपटें, प्रदूषण मंडल ने मुंबई मुख्यालय भिजवाया प्रस्ताव

BhaskarHindi.com | Last Modified - December 04th, 2018 17:36 IST

1.5k
0
0
कम्पोस्ट डिपो में डेढ़ माह से उठ रही आग की लपटें, प्रदूषण मंडल ने मुंबई मुख्यालय भिजवाया प्रस्ताव

डिजिटल डेस्क, अमरावती। जिले के सुकली कम्पोस्ट डिपो में पिछले डेढ़ माह से अधिक समय से रोजाना आग की लपटें उठ रहीं हैं। इस बीच मनपा प्रशासन द्वारा की जा रही सभी उपाय योजनाएं आग पर काबू पाने में नाकाम साबित हो चुकी है।  कम्पोस्ट डिपो के नियोजन में बरती गई लापरवाही के चलते यह समस्या विकराल रूप ले चुकी है। इस कारण महाराष्ट्र प्रदूषण नियंत्रण मंडल ने सर्वप्रथम मनपा को नोटिस तलब करते हुए  मनपा के खिलाफ प्रदूषण मंडल के मुंबई मुख्यालय में प्रस्ताव  भेजा है।

नहीं पता आग की वजह
गौरतलब हो कि विगत कई वर्षों से सुकली कम्पोस्ट डिपो में करीब 8 लाख की आबादी वाले शहर का कचरा डम्प किया जा रहा है किंतु नियम के मुताबिक कम्पोस्ट डिपो में कचरे का गीला व सूखा सेग्रीकेशन न करते हुए सीधे पहाड़ीनुमा कचरे के ढेर पर ट्रक अथवा कंटेनर से कचरा उंडेला जा रहा है। कचरे पर प्रक्रिया करने के लिए किसी भी प्रकार की वैज्ञानिक पद्धति की व्यवस्था कम्पोस्ट डिपो में मनपा  ने नहीं की है। यहां तक कि विगत कई दिनों से यहां रोजाना उठ रही आग के पीछे की वजह तक पता नहीं चल पाई है। इस संदर्भ में मनपा के स्वास्थ्य विभाग ने पुलिस में एफआईआर भी दर्ज करवाई है।

आग की लपटों के कारण लगातार फैल रहे प्रदूषण को लेकर प्रदूषण मंडल ने विगत 17 अक्टूबर को मनपा को नोटिस तलब किया था। इसके बाद मनपा ने 20 नवंबर को अपना खुलासा प्रदूषण मंडल को भेजा था किंतु कम्पोस्ट डिपो में आग की समस्या का हल नहीं निकला। इसके विपरित यहां फैल रहा प्रदूषण आसपास के इलाकों के लोगों के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो रहा है। इसके बाद प्रदूषण मंडल ने  मुंबई मुख्यालय में मनपा पर नागरिक घणकचरा नियम 2016 व पर्यावरण सुरक्षा कानून 1916 के तहत कार्रवाई का प्रस्ताव भेजा है। अब इस संदर्भ में मुख्यालय क्या निर्णय लेता है। इस ओर सभी का ध्यान लगा हुआ है।

तीन जगहों पर घनकचरा प्रकल्प
प्रदूषण मंडल का नोटिस मिलने के बाद मनपा ने कहा कि सुकली कम्पोस्ट डिपो में 9.35 हे., अकोली बाईपास में 2.83 हे. व बडनेरा कोंडेश्वर मध्यवर्ती नाका में 1.15 हेक्टेयर जगह पर घनकचरा प्रकल्प के लिए उच्च स्तरीय समिति की मंजूरी मिल चुकी है। दिसंबर माह तक निधि उपलब्ध होने की उम्मीद है।  इसके बाद टेंडर लेकर कंपनी का चयन कर लिया जाएगा।  सुकली कम्पोस्ट डिपो में लगातार उठ रही आग की लपटों के चलते डिपो में एक दमकल वाहन स्थायी रूप से दिया गया है। साथ ही डिपो में ही नया बोरवेल बनाकर पानी की व्यवस्था की गयी है।

नियोजन आवश्यक
मनपा ने अपने खुलासे में तीन जगह घनकचरा प्रकल्प के प्रस्ताव की जानकारी दी है किंतु वर्तमान स्थिति में सुकली कम्पोस्ट डिपो में उचित नियोजन करना आवश्यक है। नए घनकचरा प्रकल्प तैयार होने तक कम्पोस्ट डिपो में व्यवस्था की जानी चाहिए।
एस.डी. पाटिल, प्रादेशिक अधिकारी, महाराष्ट्र प्रदूषण नियंत्रक

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें