comScore

VIDEO : महिला बाल विकास अधिकारी ने डांसर को सरेआम गलत तरीके से छुआ

March 03rd, 2018 21:02 IST

डिजिटल डेस्क, भिंड। मध्य प्रदेश के भिंड जिले से राज्य सरकार और प्रशासन के लिए शर्मिंदगी वाली एक खबर सामने आ रही है। यहां महिलाओं को सशक्त बनाने, उनके सम्मान और अधिकार उन्हें दिलाने के लिए जिन अधिकारियों को नियुक्त किया गया, वही अधिकारी बार बालाओं के साथ सरेआम अश्लील ठुमके लगाते हुए कैमरे में कैद हुए हैं। कैमरे में कैद हुए इस अधिकारी का नाम बाबुलाल विश्नोई है, जो भिंड में जिला महिला बाल विकास अधिकारी है। बाबुलाल इस वीडियो में लड़कियों के साथ अश्लील हरकतें भी कर रहा था, जो वीडियो में साफ दिखाई दे रहा है।

बता दें कि वीडियो में जो महिला बाल विकास अधिकारी लड़कियों के साथ अश्लील ठुमके लगाते हुए नजर आ रहा है, उस बाबूलाल विश्नोई पर पहले भी कई बार महिलाओं के साथ अश्लील व्यवहार करने के आरोप लग चुके हैं। विवादित कार्यप्रणाली के कारण चर्चा में रहने वाले डीपीओ विश्नोई इस वीडियो में बार बालाओं के साथ अश्लील डांस कर महिला सशक्तिकरण का फूहड़ प्रदर्शन कर रहे हैं।

दरअसल यह जो वीडियो वायरल हो रहा है, यह होली जैसे पावन पर्व का है। यह वीडियो दतिया शहर का है, जहां ये अधिकारी महोदय एक आयोजन में बार बालाओं के अश्लील डांस का आनंद ले रहे हैं। अधिकारी बाबूलाल विश्नोई ने होली पर दतिया जिले के थरेट पहुंचकर इन बालाओं के साथ जमकर अश्लील डांस किया। आप इस वीडियो में साफ तौर पर देख सकते हैं कि सफ़ेद शर्ट में डीपीओ विश्नोई न सिर्फ लड़की के साथ अश्लील डांस कर रहे हैं, बल्कि डांसर को छूकर अश्लील व्यवहार भी कर रहे हैं।

दतिया कलेक्टर ने किया था एकतरफा कार्यमुक्त
गौरतलब है कि बाबुलाल विश्नोई भिंड से पहले दतिया जिले में पदस्थ थे। वे वहां पर भी कई विवादों में रहे हैं। कर्मचारियों ने कलेक्टर और आला अधिकारियों से उनकी शिकायत की थी। उनकी विवादित कार्यशैली के चलते ही दतिया कलेक्टर ने उन्हें एकतरफा कार्यमुक्त कर दिया था। दतिया में पदस्थ रहते हुए उन पर लगे महिला उत्पीडऩ के आरोपों की जांच एडीएम दतिया तथा संभागीय आयुक्त महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा की जा रही है।

महिला अधिकारियों को देता है पति को खुश रखने के टिप्स
दतिया से ट्रांसफर होने के बाद डीपीओ बाबूलाल विश्नोई ने 17 जनवरी को भिण्ड में ज्वाईनिंग ली है। वहीं भिंड में भी उन पर गंभीर आरोप लग चुके हैं। भिंड में महिला सुपरवाइजरों ने आरोप लगाया था कि बैठक में बुलाकर जिला महिला बाल विकास अधिकारी ने उनसे अभद्रता की और पति को खुश रखने व दांपत्य जीवन के टिप्स दिए। इसकी शिकायत महिला सुपरवाइजरों ने कलेक्टर से भी की थी। मगर कार्रवाई के नाम पर कुछ भी नहीं हुआ।

कमेंट करें
B1i7T