comScore
Dainik Bhaskar Hindi

भाैम प्रदोष आज : जानें शिव काे प्रसन्न करने की विधि, पूरे साल की तिथि

BhaskarHindi.com | Last Modified - February 13th, 2018 06:29 IST

9k
0
0
भाैम प्रदोष आज : जानें शिव काे प्रसन्न करने की विधि, पूरे साल की तिथि

 

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली।  भगवान शिव की पूजा सबसे श्रेष्ठ दिन महाशिवरात्रि माना गया है, किंतु प्रदोष व्रत भी भगवान शिव को ही समर्पित है। इस व्रत को धारण करने वाले जातकों पर भगवान शिव की कृपा बनी रहती है। इस बार 13 फरवरी को भौम प्रदोष व्रत है। इस दिन जो भी जातक महादेव की आराधना, पूजन एवं व्रत धारण करेगा वह कभी विभिन्न गंभीर रोगों से पीड़ित नही होगा। प्रदाेष व्रत का फल दिन के अनुसार ही प्राप्त होता है अतः जब यह मंगलवार काे पड़ता है तो उसे भाैम प्रदाेष कहा जाता है। इस दिन व्रतधारी जातक को व्रत रखने का फल उसे रोगों से मुक्ति एवं स्वास्थ्य लाभ के रूप में प्राप्त होता है। 

 

एेसे करें पूजन

सूर्य उदय से पहले उठकर सूर्यदेव को अघ्र्य देने के पश्चात व्रत धारण करें। पूरे दिन उपवास रखकर सूर्यास्त से एक घंटे पहले स्नान कर श्वेत या स्वच्छ वस्त्र धारण करें। स्वच्छ जल से पूजन स्थल शुद्ध गाय के गोबर से लीपकर मंडप तैयार करें। इसमें रंगोली बनाएं। आराधना के लिए कुशा के आसन का प्रयोग करें। इसके पश्चात उत्तर पूर्व दिशा की ओर मुख विधि- विधान से शिव पूजन करें। यह व्रत 11 या फिर 26 त्रयोदशियों तक धारण इसका उद्यापन कराए जाने का विधान है। 

 

पूरे साल (2018) में कब कब पड़ने वाला है प्रदाेष व्रत

 

13 फरवरी- मंगलवार - भौम प्रदोष व्रत   

28 फरवरी-  बुधवार- प्रदोष व्रत 
15 मार्च- गुरुवार -  प्रदोष व्रत 
29 मार्च - गुरुवार-  प्रदोष व्रत 
14 अप्रैल- शनिवार- शनि प्रदोष व्रत 
28 अप्रैल- शनिवार-  शनि प्रदोष व्रत 
13 मई - रविवार- प्रदोष व्रत 
27 मई-  रविवार- प्रदोष व्रत 
12 जून- मंगलवार- भौम प्रदोष व्रत 
25 जून-  सोमवार-  सोम प्रदोष व्रत 
26 जून-  मंगलवार- भौम प्रदोष व्रत
11 जुलाई- बुधवार- प्रदोष व्रत 
25 जुलाई- बुधवार- प्रदोष व्रत 
09 अगस्त- गुरुवार- प्रदोष व्रत
24 अगस्त- शुक्रवार- प्रदोष व्रत 
07 सितम्बर- शुक्रवार- प्रदोष व्रत 
22 सितम्बर- शनिवार- शनि प्रदोष 
07 अक्तूबर- रविवार- प्रदोष व्रत
22 अक्तूबर- सोमवार- सोम प्रदोष व्रत 
05 नवम्बर-  सोमवार - सोम प्रदोष व्रत 
21 नवम्बर-  बुधवार-प्रदोष व्रत 
05 दिसम्बर- बुधवार- प्रदोष व्रत 
20 दिसम्बर- गुरुवार- प्रदोष व्रत

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर