comScore
Dainik Bhaskar Hindi

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर से मिलीं प्रियंका, मोदी के खिलाफ लड़ेंगे चुनाव?

BhaskarHindi.com | Last Modified - March 14th, 2019 13:26 IST

4.1k
0
0

News Highlights

  • मेरठ के अस्पताल में भर्ती हैं चंद्रशेखर
  • कांग्रेस ज्वाइन करने के लग रहे कयास
  • मेरी बहन मुझसे मिलने आईं-चंद्रशेखर


डिजिटल डेस्क, लखनऊ। कांग्रेस महासचिव और पश्चिमी उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी ने बुधवार को भीम आर्मी के नेता चंद्रशेखर आजाद से मुलाकात की। मेरठ के एक अस्पताल में भर्ती चंद्रशेखर से मिलने पहुंची प्रियंका के साथ पश्चिमी यूपी के कांग्रेस प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मौजूद थे। प्रियंका की मुलाकात के बाद अब चंद्रशेखर के कांग्रेस ज्वाइन करने या उनकी पार्टी से गठजोड़ करने के भी कयास लगाए जा रहे हैं। 

चंद्रशेखर से मिलने के बाद प्रियंका ने कहा कि सरकार युवाओं की आवाज कुचलने का प्रयास कर रही है। सरकार ने युवाओं को रोजगार नहीं दिया और अब संघर्स करने से भी रोक रही है। उन्होंने कहा कि यहां आने की कोई राजनैतिक वजह नहीं है, वो यहां नौजवानों की आवाज उठाने आई हैं।

प्रियंका से मुलाकात करने के बाद चंद्रशेखर ने कहा कि मेरी बहन प्रियंका मिलने आई थीं, उन्होंने मुझसे तबीयत के बारे में पूछा। उन्होंने कहा कि वो बहुजन समाज में ही पैदा हुए हैं और उसी में मरेंगे भी। चंद्रशेखर ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर भी निशाना साधा, उन्होंने कहा कि मंगलवार को देवबंद में उनकी रैली थी, जिसे योगी आदित्यनाथ के इशारे पर रोक दिया गया। 


दरअसल, पुलिस ने चंद्रशेखर को देवबंद से मंगलवार को गिरफ्तार किया था, उन पर आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप लगा था, बाद में तबीयत खराब होने पर उन्हें इलाज के लिए मेरठ भेज दिया गया। चंद्रेशेखर ने कहा कि दिल्ली में 15 मार्च को बहुजन हुंकार रैली होगी, किसी भी हालत में रैली को रोका नहीं जाएगा। इसमें भारी तादाद में लोग भाग लेंगे। उन्होंने कहा कि वो लोकसभा चुनाव में मायावती का समर्थन तो करेंगे, लेकिन अखिलेश को पहले प्रमोशन में आरक्षण पर अपनी राय साफ करनी होगी। 

मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे चंद्रशेखर?
भीम आर्मी के अध्यक्ष का कहना है कि वो 2019 के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि पहले वो अपने संगठन से मजबूत प्रत्याशी उतारने की कोशिश करेंगे, लेकिन प्रत्याशी न मिलने की स्थिति में वो खुद भी चुनाव लड़ सकते हैं। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download