comScore

जलस्तर घटने से जलशुद्धिकरण केंद्र से पंपिंग में आ रही दिक्कतें 

February 13th, 2019 17:08 IST
जलस्तर घटने से जलशुद्धिकरण केंद्र से पंपिंग में आ रही दिक्कतें 

डिजिटल डेस्क, नागपुर। मध्यप्रदेश सरकार द्वारा चौरई बांध में पानी रोकने और जलसंपदा विभाग द्वारा कोची बांध बनाने से कन्हान नदी में जलस्तर तेजी से घट रहा है। ऐसे में अब इसका परिणाम शहर के उत्तर और दक्षिण नागपुर क्षेत्र में होने की जानकारी है। मनपा व ओसीडब्ल्यू ने भी आने वाले दिनों में उत्तर और दक्षिण नागपुर को जलापूर्ति करने में दिक्कतें आने का संकेत दिया है। जिस कारण नेहरूनगर जोन, सतरंजीपुरा जोन, लकड़गंज जोन, आशीनगर जोन की प्रभावित होने की आशंका है। हालांकि जलसंपदा विभाग व नागपुर महानगरपालिका ने यह समस्या हल करने और कच्चा पानी उपलब्ध कराने की दिशा में प्रयास शुरू कर दिए हैं। यह भी ध्यान में आया कि कोची गांव के पास कोची बांध बनाने से कन्हान नदी में जलस्तर की समस्या निर्माण हुई है। ऐसे में कन्हान नदी पर बार-बार जलस्तर घट रहा है। इससे मनपा-ओसीडब्ल्यू को शहर में जलापूर्ति करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जलस्तर घटने से कच्चे पानी की समस्या भी निर्माण हुई है, जिसका असर पंपिंग पर हो रहा है। पंपिंग की समस्या उत्पन्न होने से उत्तर और दक्षिण नागपुर अंतर्गत इलाकों में जलापूर्ति की समस्या निर्माण हो रही है। 

समस्या अभी भी बरकरार
गौरतलब है कि मध्यप्रदेश सरकार द्वारा चौराई बांध बनाने से तोतलाडोह बांध में पानी कम हुआ है। यह मसला अब तक नहीं सुलझा है। इस मामले को लेकर राज्य सरकार ने मध्यप्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात कर पानी छोड़ने का निवेदन करने का आश्वासन दिया था। फिलहाल मध्यप्रदेश में  सरकार और मुख्यमंत्री दोनों बदल गए हैं, लेकिन अब तक इसे लेकर बातचीत नहीं हुई है। जिस वजह से तोतलाडोह बांध में जलस्तर तेजी से घटा है। तोतलाडोह में 10 प्रतिशत के करीब पानी शेष होने की जानकारी दी गई है। यह आगामी दिनों के लिए खतरे की घंटी बताई जा रही है।

यह मामला अभी ताजा था कि जलसंपदा विभाग ने नई मुसीबत खड़ी कर दी है। जलसंपदा विभाग द्वारा कोची बांध बनाने से कन्हान नदी में पानी का प्रवाह रुक गया है। जिसकी वजह से कन्हान नदी तेजी से सूख रही है।  जलशुद्धिकरण केंद्र में पंपिंग की दिक्कतें आ रही है। फिलहाल जलसंपदा विभाग ने खेकड़ा नाला बांध से कच्चा पानी कन्हान नदी में छोड़ा है। जिससे कन्हान जलशुद्धिकरण केंद्र में शुद्ध पानी की पंपिंग बढ़ी है। 11 फरवरी को कन्हान नदी में जलस्तर घटा था। जिसकारण कन्हान केंद्र की पंपिंग पर असर हुआ था। 12 फरवरी को भी यहीं परिस्थिति देखी गई है।   
 

कमेंट करें
Survey
आज के मैच
IPL | Match 35 | 19 April 2019 | 08:00 PM
KKR
v
RCB
Eden Gardens, Kolkata