comScore

पुणे कोर्ट ने संजय लीला भंसाली और दीपिका पादुकोण को भेजा नोटिस

November 21st, 2017 15:18 IST
पुणे कोर्ट ने संजय लीला भंसाली और दीपिका पादुकोण को भेजा नोटिस

डिजिटल डेस्क, मुंबई। संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती' लेकर विवाद और विरोध बढ़ता ही जा रहा है। इस फिल्म के विरोध में पूरे देश में राजपूत संगठन ने हाहाकार मचा दिया है। राजस्थान से शुरू हुआ यह विरोध यूपी, एमपी, पंजाब, महाराष्ट्र, कर्नाटक आदि राज्यों तक पहुंच गया है। विभिन्न संगठनों के विरोध को देखते हुए राज्य सरकारों ने भी इस मामले में अपने हाथ खीच लिए हैं। वहीं फिल्म की निर्माता कंपनी ने भी हाथ खींच लिया है। पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने इतिहास के साथ छेड़छाड़ को लेकर राज्य में फिल्म को बैन कर दिया है। हालांकि किसी को भी अभी ठीक से यह नहीं मालूम है कि फिल्म में क्या दिखाया गया है।

कारण बताओ नोटिस जारी

एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण की फिल्म 'पद्मावती' अब तक के फिल्मी इतिहास की सबसे विवादित फिल्म बनने जा रही है। पुणे कोर्ट ने भी भंसाली और दीपिका पादुकोण को नोटिस दिया है। मेवाड़ के राजा रतन सिंह और रानी पद्मावती की छवि धूमिल करने के लिए तीन वकीलों की ओर से दायर एक मुकदमे के संदर्भ में यह नोटिस भेजा गया है। पुणे की एक अदालत ने निर्देशक समेत फिल्‍म के कलाकारों को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए मंगलवार को अदालत में पेश होने के लिए कहा है।
 

छह प्रतिवादियों को पहुंचा नोटिस

जानकारी के अनुसार, वकीलों की ओर से दायर मुकदमे में कहा गया है कि रानी पद्मावती लोगों के सामने सार्वजनिक तौर पर कभी घूंघट से बाहर नहीं रहीं। फिल्‍म के एक गाने 'घूमर' में उन्‍हें अपना चेहरा ढके बिना ही लोगों के सामने डांस किया है। इससे उनकी छवि धूमिल हो रही है। याचिका दायर करने वाले अधिवक्‍ताओं में से एक सुदीप केंजा‍लकर ने कहा कि कोर्ट ने इस मामले में सभी छह प्रतिवादियों को नोटिस भेजा है।

'पद्मावती' को लेकर जहां एक ओर राजस्थान, यूपी, मध्य प्रदेश और पंजाब फिल्म को बैन करने के पक्ष में हैं तो वहीं दूसरी ओर पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने फिल्म का समर्थन करने का पूरा मन बना लिया है। सीएम ममता बनर्जी ने 'पद्मावती 'को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शन को सुपर इमरजेंसी करार दिया।

सीएम योगी बोले भंसाली भी दोषी

पद्मावती को लेकर चल रहे विवाद में सीएम योगी ने भी भंसाली को दोषी माना है। उन्होंने कहा कि "कानून को हाथ में लेने का अधिकार किसी को नहीं है। फिर चाहे वह संजय लीला भंसाली हों या कोई और। मुझे लगता है कि धमकी देने वाले दोषी हैं तो भंसाली भी कम दोषी नहीं हैं। जनभावनाओं से खिलवाड़ का अधिकार किसी को नहीं है।"

कमल हासन ने लिया पक्ष

वहीं अभिनेता कमल हासन ने फिल्म पद्मावती को लेकर "मैं दीपिका का सिर चाहता हूं... बचा हुआ। उनकी आज़ादी का अधिक सम्मान करता हूं। उन्होंने कहा कि दीपिका के सम्मान की रक्षा करना ज़रूरी है। इस तरह एक महिला व एक्टर के सम्मान का हनन किया गया है। 

पदमावती विवाद में कूदी शिवसेना

शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा, “हमने स्पष्ट कर दिया है कि फिल्म को लेकर कोई सौहाद्रपूर्ण समाधान निकाला जाना चाहिए, जिससे समुदाय के हित को नुकसान न पहुंचे। यदि राजपूतों को किसी दृश्य से आपत्ति है तो निर्देशक भंसाली को उसे हटा देना चाहिए। शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने संजय लीला भंसाली से उनकी फिल्म 'पद्मावती' पर बात की है।

ट्विंकल खन्ना ने भी किया ट्वीट


बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार की पत्नी ट्विंकल खन्ना ने ट्वीट कर कहा पद्मावती विवाद पर अरण गोस्वामी अंदाज में चुटकी ली है। ट्विंकल ने लिखा, 'देश जानना चाहता है कि 10 करोड़ पर भी जीएसटी लगाया गया है क्या'? 

ट्विंकल ने एक और ट्वीट करते हुए लिखा कि "मैं चाहती हूं कि यह फिल्म सुपरहिट हो और इस फिल्म की सक्सेस से विरोध करने वाले लोगों को मुहतोड़ जवाब मिले।

कमेंट करें
BF8lw