comScore
Dainik Bhaskar Hindi

तेल उत्पादक देशों को झटका, OPEC से बाहर होगा कतर

BhaskarHindi.com | Last Modified - December 03rd, 2018 20:09 IST

1.9k
1
0
तेल उत्पादक देशों को झटका, OPEC से बाहर होगा कतर

News Highlights

  • तेल उत्पादक देशों के संगठन OPEC से कतर ने बाहर होने का फैसला किया है।
  • 57 साल बाद OPEC से बाहर निकलने की वजह कतर ने LNG उत्पादन पर विशेष ध्यान देने को बताया है।
  • कतर के एनर्जी मिनिस्टर साद अल-काबी ने इसकी पुष्टि की।


डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। तेल उत्पादक देशों के संगठन 'ऑर्गेनाइजेशन ऑफ द पेट्रोलियम एक्सपोर्टिंग कंट्रीज' (OPEC) से कतर ने बाहर होने का फैसला किया है। 57 साल बाद OPEC से बाहर निकलने की वजह कतर ने LNG उत्पादन पर विशेष ध्यान देने को बताया है। इसकी जानकारी OPEC को भी दे दी गई है। कतर के एनर्जी मिनिस्टर साद अल-काबी ने इसकी पुष्टि की। बता दें कि सऊदी अरब, यूएई, बहरीन और मिस्त्र जैसे पड़ोसी देशों ने आतंकवाद का समर्थन करने के आरोप में कतर पर पिछले वर्ष जून से ही व्यापारिक एवं आवाजाही जैसी गतिविधियों पर रोक लगा रखी है। कतर के इस फैसले को इस रोक से भी जोड़कर देखा जा रहा है।

अल-काबी ने कहा कि ‘कतर ने ओपेक से अपनी मेंबरशिप वापस लेने का फैसला किया है, जो जनवरी 2019 से प्रभावी होगा।’ उन्होंने कहा, अब कतर नेचुरल गैस प्रोडक्शन पर ध्यान केंद्रित करेगा, यही वजह है कि यह फैसला लिया गया है। एनर्जी मिनिस्टर ने कहा, 'हम इस संगठन में छोटे प्लेयर हैं और हमें अपने विकास पर ध्यान देना है।' हालांकि OPEC से बाहर निकलने के बाद भी वह तेल उत्पादन करता रहेगा। उन्होंने कहा, यह फैसला राजनीति से प्रेरित नहीं है बल्कि एक लॉन्ग टर्म स्ट्रैटजी के तहत लिया गया है। इससे 2024 तक LNG के उत्पादन में बड़ी वृद्धि करने में मदद मिलेगी। दुनिया में लिक्विफाइड नैचुरल गैस (LNG) का सबसे बड़ा एक्सपोर्टर कतर है। दुनिया की करीब 30 फीसदी LNG का उत्पादन कतर में ही किया जाता है।    

बता दें कि कतर 1961 से OPEC का सदस्य है। कतर 6 लाख बैरल प्रति दिन (BPD) का उत्पादन करता है। वह OPEC के गठन के एक वर्ष बाद ही इसका सदस्य बन गया था। OPEC से बाहर निकलने के बाद कतर पहला ऐसा राष्ट्र बन जाएगा जिसने इस संगठन से बाहर निकलने का फैसला किया है। ओपेक संगठन में अल्जीरिया, अंगोला, कांगो, इक्वाडोर, इक्वेटोरियल गुयाना, गबोन, ईरान, ईराक, कुवैत, संयुक्त अरब अमीरात, कतर, नाइजीरिया, लीबिया, सऊदी अरब और वेनेजुएला हैं। इस संगठन का मुख्यालय विएना में है।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें