comScore
Dainik Bhaskar Hindi

एक दिवसीय बहरीन यात्रा पर राहुल, NRI सम्मेलन को करेंगे संबोधित

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 08th, 2018 18:55 IST

4k
0
0

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद राहुल गांधी अपने पहले विदेश दौरे पर हैं। राहुल गांधी आज अपनी एकदिवसीय यात्रा के लिए बहरीन पहुंच गए। बहरीन एयरपोर्ट पर राहुल गांधी का जोरदार स्वागत किया गया। GOPIO मेंबर राहुल गांधी को एयरपोर्ट  पर रिसीव करने पहुंचे थे। यहां पर राहुल प्रवासी भारतीयों के एक सम्मेलन को संबोधित करेंगे। खाड़ी देश के प्रधानमंत्री शहजादे सलमान बिन हमद अल-खलीफा से भी राहुल मुलाकात करेंगे। मालूम हो कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी इस महीने के अंत में बहरीन दौरे पर रहेंगे।

GOPIO के चीफ गेस्ट है राहुल

खाड़ी देशों में भारतीय मूल के 35 लाख से ज्यादा लोग रहते हैं। बहरीन पहुंचे राहुल को राजकीय अतिथि का दर्जा दिया गया है। राहुल GOPIO (ग्लोबल ऑर्गेनाइजेशन ऑफ पीपल ऑफ इंडियन ओरिजिन) के प्रतिष्ठित द्विवार्षिक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन के चीफ गेस्ट हैं। बहरीन में कांग्रेस अध्यक्ष के दौरे का पूरा इंतजाम देख रहे कांग्रेस नेता मधु गौड़ ने बताया, 'ये अत्यंत गौरव का क्षण है क्योंकि राहुल जी GOPIO को संबोधित करेंगे।' GOPIO भारतीय व्यापारियों के लिए एक ग्लोबल नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म है, जहां 50 देशों से NRI लोग और भारतीय बिजनेस दिग्गज मिलेंगे।

शहजादे के साथ लंच

राहुल भारतीय मूल के बिजनेस लीडरों से मुलाकात के दौरान भारत की अर्थव्यवस्था और आर्थिक मंदी पर चर्चा करेंगे। राहुल गांधी के साथ प्रवासी कांग्रेस अध्यक्ष सैम पित्रोदा और पूर्व कांग्रेस सांसद मधु गौड़ भी कार्यक्रम में शामिल होंगे। बहरीन के शहजादे सलमान बिन हमद अल खलीफा के साथ भी राहुल लंच करेंगे। यहां जानना रोचक होगा कि राहुल पीएम नरेंद्र मोदी से पहले खाड़ी देशों का दौरा कर रहे हैं। इस महीने के अंत में पीएम का भी बहरीन दौरा होना है। 

राहुल का ट्वीट

इस दौरे के बारे में जानकारी देते हुए राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा था कि ‘‘अनिवासी भारतीय हमारी सौम्य ताकत के वास्तविक प्रतिनिधि एवं विश्व में हमारे देश के दूत होते हैं। बहरीन में अपने देशवासियों के साथ मुलाकात और उन्हें संबोधित करने को लेकर आशान्वित हूं।’’ 

ग्लोबल इमेज मजबूत बनाने की रणनीति

गौरतलब है कि कांग्रेस ने राहुल गांधी को अतंर्राष्ट्रीय पटल पर मजबूती से पेश करने की रणनीति बनाई है, जिसके तहत हर तीन-चार महीनों के अंतराल पर राहुल गांधी अंतर्राष्ट्रीय मंच या कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। इसके लिए कांग्रेस के अतंर्राष्ट्रीय फ्रंट का काम देख रहे सैम पित्रोदा सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं। इसके तहत, राहुल इस साल अमेरिका व यूरोप का दौरा भी करेंगे। माना जा रहा पीएम मोदी की तर्ज पर अब राहुल की भी ग्लोबल इमेज मजबूत करने के लिए इस रणनीति पर काम हो रहा है। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download