comScore
Dainik Bhaskar Hindi

मोदीजी ने किसानों की बात तो की, लेकिन मिली सिर्फ 'मन की बात -'राहुल

BhaskarHindi.com | Last Modified - November 30th, 2017 15:29 IST

948
0
0

डिजिटल डेस्क, गांधीनगर। कांग्रेस के वाइस प्रेसिडेंट राहुल गांधी का गुरुवार को गुजरात दौरे का आखिरी दिन अमरेली के लाठी में रैली को एड्रेस किया। इस दौरान राहुल ने पीएम मोदी और अमित शाह पर जमकर निशाना साधा। राहुल ने कहा कि गुजरात में सिर्फ 5-10 लोग हैं, जो आंदोलन नहीं कर रहे हैं। क्योंकि ये लोग मोदी जी के दोस्त हैं और प्राइवेट प्लेन में सफर करते हैं। इसके अलावा राहुल ने सीएम विजय रुपाणी को अमित शाह का रिमोट बताया। बता दें कि दौरे के दूसरे और आखिरी दिन राहुल स्वामीनारायण मंदिर में गोपीनाथजी महाराज के दर्शन करेंगे। 

किसानों को सिर्फ मन की बात मिली

अमरेली में रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि 'मोदी जी ने 22 सालों में किसानों के बारे में बात तो की है, लेकिन किसानों को न तो सही दाम मिला है और न ही पानी। उनसे उनकी जमीन भी छीन ली जाती है। अपने भाषणों में मोदी जी ये क्यों नहीं कहते कि मैंने मूंगफली किसानों को 1500 रुपए देने का वादा किया था, कांग्रेस पार्टी 1000 देती थी, लेकिन मैं 600 देता हूं।' राहुल ने इसके आगे कहा कि 'कपास किसान को भी मोदी जी ने 2000 देने का वादा किया था। वो ये क्यों नहीं कहते कि मैं कांग्रेस पार्टी से भी कम देता हूं। किसानों को अब तक मोदी जी से सिर्फ मन की बात ही मिली है और कुछ नहीं।'

पार्लियामेंट सेशन में देरी का भी उठाया मुद्दा

राहुल ने लाठी में पार्लियामेंट सेशन में देरी होने का भी मुद्दा उठाया। राहुल ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि 'संसद का विंटर सेशन नहीं हो रहा है और गुजरात चुनाव से पहले शुरू भी नहीं होगा।' राहुल ने पार्लियामेंट सेशन में देरी के दो कारण भी बताए। उन्होंने कहा कि 'इसका पहला कारण तो जय शाह है,क्योंकि मोदी जी नहीं चाहते कि गुजरात चुनाव से पहले जय शाह पर बात हो और दूसरा कारण राफेल डील है।' राहुल ने कहा कि डिफेंस मिनिस्टर गोवा में मछली खरीद रहे थे और पीएम मोदी ने फ्रांस जाकर डील ही बदल डाली।

GST और नोटबंदी पर भी किया हमला

राहुल यहां ही नहीं रुके, इसके आगे भी उन्होंने बीजेपी और पीएम मोदी पर जमकर हमला बोला। अपनी रैली में राहुल ने GST और नोटबंदी पर भी हमला किया। राहुल ने कहा कि 'मोदी जी करप्शन की बात करते हैं, लोगों पर गब्बर सिंह टैक्स लागू कर दिया। स्मॉल और मीडियम इंडस्ट्रीज़ को खत्म कर दिया।' इसके आगे राहुल ने कहा कि 'मोदी जी ने हिंदुस्तान के सब चोरों का कालाधन सफेद कर दिया और आपको लाइन में खड़ा कर दिया। क्या आपको 15 लाख रुपए मिले?'


क्या है राहुल गांधी का कार्यक्रम?

  • 11 बजे : अमरेली जिले के लाठी में नुक्कड़ सभा को एड्रेस करेंगे।
  • 12.15 बजे : बोटाद जिले के धासा रेलवे स्टेशन के पास नुक्कड़ सभा को एड्रेस करेंगे।
  • 1.30 बजे : बोटाद जिले में स्वामीनारायण मंदिर गोपीनाथजी महाराज में दर्शन करेंगे।
  • 2.15 बजे : बोटाद में लक्ष्मी नारायण सोसाइटी के पास ओपन ग्राउंड में नुक्कड़ सभा को एड्रेस करेंगे।
  • 3.45 बजे : बोटाद जिले के बरवाला में पहुंचेंगे।
  • 4.45 बजे : भावनगर जिले के वल्लाभीपुर जाएंगे।
  • 6 बजे : भावनगर जिले के नारी चोकड़ी में एक रैली करेंगे।


सोमनाथ में बतौर गैर-हिंदू दर्ज हुआ राहुल का नाम

इससे पहले बुधवार को राहुल गांधी ने सोमनाथ मंदिर के दर्शन किए, लेकिन इस पर विवाद छिड़ गया। कहा जा रहा है कि इस मंदिर के रजिस्टर में राहुल का नाम बतौक गैर हिंदु दर्ज हुआ है। इस दौरान राज्यसभा सांसद अहमद पटेल भी राहुल के साथ थे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कांग्रेस के मीडिया कॉर्डिनेटर मनोज त्यागी ने उस रजिस्टर में राहुल गांधी और अहमद पटेल की एंट्री कर दी, जिसमें गैर-हिंदुओं के नाम रजिस्टर किए जाते हैं। इस रजिस्टर की एक फोटो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

कांग्रेस ने दी सफाई

शाम को विवाद बढ़ने पर कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने इस मामले में सफाई दी। सुरजेवाला ने कहा कि 'राहुल जी ने विजिटर्स बुक में एंट्री की थी और जिस सिग्नेचर की बात की जा रही है, वो अलग है।' उन्होंने आगे कहा कि 'रजिस्टर में जो सिग्नेचर हैं, वो राहुल के नहीं है और न ही वो रजिस्टर उन्हें दिया गया था। राहुल जी सिर्फ एक हिंदु ही नहीं है, बल्कि वो एक जनेऊधारी भी हैं। इसलिए बीजेपी को राजनीति के लिए इतना नीचे नहीं गिरना चाहिए।'


मोदी ने 4 तो राहुल ने 21 मंदिरों के दर्शन किए

अगर पिछले 2 महिनों की बात की जाए तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अब तक सिर्फ 4 मंदिरों के दर्शन किए हैं। जिसमें द्वारकाधीश मंदिर, हटकेश्वर मंदिर, अक्षरधाम मंदिर और आशापूर्णा माता मंदिर शामिल है। जबकि राहुल गांधी इसी दौरान 21 मंदिरों के दर्शन कर चुके हैं।  राहुल ने गुजरात में अपनी नवसर्जन यात्रा की शुरुआत द्वारकाधीश में माथा टेककर की थी। राहुल अब तक द्वारकाधीश, खोडलधाम, संतराम मंदिर, पावागढ़ महाकाली, ऊनाई मां का मंदिर, अक्षरधाम मंदिर, बहुचराजी का मंदिर, कबीर मंदिर, चोटिला देवी मंदिर, दासी जीवन मंदिर, जलाराम मंदिर और कृष्णा मंदिर के दर्शन कर चुके हैं। गुजरात चुनाव प्रचार के दौरान बार-बार राहुल का मंदिर जाना बीजेपी को पसंद नहीं आया, जिस कारण बीजेपी ने राहुल पर कई बार हमले किए हैं। खुद पीएम ने एक रैली में कहा था कि हमने अच्छे-अच्छों को मंदिर जाने की आदत डलवा दी।

क्या है गुजरात विधानसभा का गणित? 

गुजरात विधानसभा के गणित की बात करें तो यहां पर 182 विधानसभा सीटें हैं। पिछले यानी 2012 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाई थी। इस वक्त गुजरात विधानसभा में बीजेपी के 114, कांग्रेस के 61 और अन्य के खाते में 6 सीटें हैं। वहीं पिछली बार बीजेपी को 48%, कांग्रेस को 39% और अन्य को 13% वोट मिले थे। जबकि गुजरात में 2014 लोकसभा चुनाव के नतीजों पर नजर डालें तो यहां पर 26 लोकसभा सीट है और सभी सीटों पर बीजेपी का कब्जा है। 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी का वोट परसेंट जहां 60 था, वहीं कांग्रेस को 33% वोट मिले थे, लेकिन उसके बावजूद कांग्रेस इस वोट परसेंटेज को सीटों में तब्दील करने में नाकाम रही थी। 

गुजरात में कब है चुनाव? 

गुजरात में विधानसभा चुनाव की 182 सीटों के लिए वोटिंग 2 फेस में होने जा रही है। पहले फेस में 89 सीटों के लिए 9 दिसंबर को वोटिंग होगी, जबकि दूसरे फेस में 93 सीटों के लिए 14 दिसंबर को वोटिंग की जाएगी। वहीं रिजल्ट 18 दिसंबर को डिक्लेयर किए जाएंगे। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर