comScore
Dainik Bhaskar Hindi

रोकी गई अमरनाथ यात्रा, बारिश, लैंडस्लाइड बनी बाधा

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 27th, 2017 17:02 IST

1.3k
0
0
रोकी गई अमरनाथ यात्रा, बारिश, लैंडस्लाइड बनी बाधा

टीम डिजिटल, श्रीनगर. बुधवार 28 जून को शुरू हुई अमरनाथ यात्रा बारिश और लैंडस्लाइड की वजह से रोक दी गई है। जम्मू-कश्मीर के उधमपुर और रामबन में भारी बारिश के बाद नेशनल हाईवे पर हुई लैंडस्लाइड हो गया। जिस वजह से यात्रा को फिलहल रोक दिया गया है।

तीर्थयात्रियों को जम्मू से श्रीनगर के बीच रोका गया है। प्रशासन ने यात्रियों को जम्मू के बेस कैम्प में ही दिन गुजारने को कहा है। उधर, रास्ते से चट्टानें और मलबा हटाने की कोशिश की जा रही है। पुलिस के मुताबिक हाईवे को खोलने का काम करीब 50 फीसदी हो गया है। लेकिन लगातार हो रही बारिश की वजह से काम में रुकावट आ रही है।

29 जून को हुए पहले दर्शन

बुधवार 28 जून को अमरनाथ यात्रा शुरू हुई थी। राज्य के डिप्टी सीएम निर्मल सिंह ने जत्थे को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था। पहले जत्थे में 4000 तीर्थयात्री बालटाल और पहलगाम के बेस कैम्प से रवाना हुए। पवित्र गुफा में शिवलिंग के पहले दर्शन गुरुवार 29 जून को किए गए। इस बार 2.30 लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने अमरनाथ यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है। यह यात्रा 40 दिन तक चलेगी। पवित्र गुफा में शिवलिंग के पहले दर्शन गुरुवार को किए गए।

यात्रा पर आतंकी हमले का खतरा

कश्मीर घाटी में जारी हिंसा को देखते हुए इस बार अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमले का खतरा जताया गया है। कश्मीर जोन के आईजी मुनीर खान ने यात्रा शुरू होने से पहले आर्मी, सीआरपीएफ और रेंज के डीआईजी को लेटर भेजा था। लेटर में लिखा है, "अनंतनाग के एसएसपी को खुफिया सूचना मिली है, जिसमें खुलासा हुआ है कि आतंकियों को 100 से 150 श्रद्धालुओं और करीब 100 पुलिस ऑफिसर्स को मारने का निर्देश दिया गया है।" वहीं हमले की आशंका के चलते 200 किलोमीटर की यात्रा के रास्ते पर तीर्थयात्रियों की सिक्युरिटी में करीब 40 हजार जवान तैनात किए गए हैं। इसमें लोकल पुलिस के साथ ही आर्मी, बीएसएफ और सीआरपीएफ की टीमें शामिल हैं।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download