comScore

सैलरी कटने का गुस्सा पुलिसकर्मियों ने गृहमंत्री पर ही उतार डाला

October 17th, 2017 11:45 IST
सैलरी कटने का गुस्सा पुलिसकर्मियों ने गृहमंत्री पर ही उतार डाला

डिजिटल डेस्क,जोधपुर। वेतन में कटौती से नाराज पुलिसकर्मियों ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह को भी जवानों की नाराजगी का सामना करना पड़ा और जवानो ने उन्हें सलामी देने से इनकार कर दिया। जोधपुर में हुई इस घटना के बाद दूसरे पुलिकर्मियों को बुलाकर सलामी दी गई। दरअसल राजस्थान में पुलिसकर्मी वेतन कटौती के विरोध में नाराजगी जता रहे हैं। जयपुर के रायसर में चौकी इंचार्ज और 5 काॅन्स्टेबल के सिर मुंडाने के बाद पूरे राजस्थान में पुलिस जवान सैलरी कटौती के विरोध में अलग-अलग तरीके अपना रहे हैं।

गृह मंत्री सलामी देने से पहले ले ली छुट्टी

गौरतलब है कि सोमवार को गृहमंत्री राजनाथ सिंह एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए जोधपुर दौरे पर पहुंचे। इस दौरान राजनाथ सिंह को गार्ड ऑफ ऑनर देने के लिए 8 जवानों को जाना था, लेकिन वो आखिरी वक्त पर छुट्टी पर चले गए। बाद में दूसरे पुलिसकर्मियों ने उन्हें सलामी दी। दरअसल सैलरी में होने वाली कटौती के विरोध के चलते राजस्थान पुलिस के जवान नाराज हैं। पुलिस जवानों ने सामूहिक अवकाश के लिए अर्जी दी थी, लेकिन अफसरों ने छुट्टी नामंजूर कर दी। इसी बात से नाराज होकर करीब 250 सिपाही अचानक गैर हाजिर हो गए। इनमें वो 8 जवान भी शामिल थे, जिन्हें राजनाथ सिंह को सलामी देनी थी। इससे पहले जोधपुर दौरे पर आए ADG एमएल लाठर को भी जवानों ने गार्ड ऑफ ऑनर देने से मना कर दिया था, जिसके बाद दूसरी टीम ने ADG को गार्ड ऑफ ऑनर दिया था।

250 से ज्यादा पुलिसकर्मी अचानक गायब हो गए

मामले में जोधपुर के पुलिस कमिश्नर अशोक राठौड़ का कहना है कि करीब 250 से ज्यादा पुलिसकर्मी एक साथ सोमवार को एक दिन की छुट्टी पर चले गए, जबकि यह छुट्टी मंजूर नहीं की गई थी। उनमें से कुछ की गृहमंत्री राजनाथ सिंह को सलामी देने के लिए ड्यूटी लगाई थी, लेकिन उन्होंने आने से मना कर दिया। हमें मजबूरन दूसरे पुलिसकर्मियों से सलामी दिलवानी पड़ी। जिन जवानों का नाम इस मामले में सामने आया है, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। वहीं राजस्थान के DGP अजीत सिंह ने कहा कि इस तरह की अनुशासनहीनता को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सिपाहियों का यह दल सैलरी में कटौती की अफवाह के खिलाफ प्रदर्शन कर रहा था।

ये हैं जवानों की मांगें

  • सैलरी में कटौती न की जाए
  • बाइक अलाउंस 2000 रुपए किया जाए
  • 7th पे कमीशन 1 जनवरी 2016 से लागू हो
  • मेस एलाउंस 1600 रुपए से बढ़ाकर 4 हजार रुपए किए जाए
  • हार्ड ड्यूटी एलाउंस 12% से बढ़ाकर 50% किया जाए
  • कॉन्स्टेबल की योग्यता 12वीं पास की जाए
कमेंट करें
XY6xj