comScore
Dainik Bhaskar Hindi

भोपाल आए राज्यमंत्री रूडी ने पाकिस्तान से लेकर राम मंदिर के सवालों पर दिए यह जवाब

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 27th, 2017 16:32 IST

1.8k
0
0
भोपाल आए राज्यमंत्री रूडी ने पाकिस्तान से लेकर राम मंदिर के सवालों पर दिए यह जवाब

एजेंसियां, भोपाल. केन्द्रीय कौशल विकास एवं उद्यमिता विकास राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) राजीव प्रताप रूडी ने आज भोपाल में देश की सुरक्षा के लिए केंद्र सरकार की प्रतिबद्धता जताते हुए कहा कि हम अपने पड़ोसी को नहीं बदल सकते, लेकिन उससे कैसे व्यवहार किया जाए, यह जरूर तय कर सकते हैं.

आज यहां संवाददाताओं से चर्चा में रूडी ने कहा, "देश की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए केंद्र सरकार हरसंभव कदम उठाने के लिए तैयार है. हम कभी अपने पड़ोसी को नहीं बदल सकते, लेकिन उसके साथ किस प्रकार व्यवहार किया जा सकता है, यह जरूर तय कर सकते हैं, बात भले ही सर्जिकल स्ट्राइक की हो या सीमावर्ती चौकियों पर हमला बोलने की, हम कभी पीछे नहीं हटेंगे.

अपने मंत्रालय से जुड़ी उपलब्धियों का विवरण देते हुए रूडी ने कहा कि देश में वर्तमान में 13 हजार औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (आईटीआई) में करीब 23 लाख विद्यार्थी प्रशिक्षण ले रहे हैं. इन संस्थानों में दिए जा रहे प्रशिक्षण की गुणवत्ता को लेकर बहुत सवाल उठाए जा रहे थे. यह पहली सरकार है, जिसने इस मुद्दे पर ध्यान दिया और इस पर सख्ती से निगरानी कर रही है. मध्यप्रदेश में ही खराब गुणवत्ता के चलते 35 आईटीआई संस्थानों की संबद्धता रद्द की गई है.
उन्होंने कहा कि पहले माना जाता था कि केवल कमजोर विद्यार्थियों को ही आईटीआई में जाना चाहिए, मौजूदा सरकार ने इस अवधारणा को बदला, अब आईटीआई से निकले छात्र आगे की पढ़ाई या स्नातक कर सकते हैं.

अयोध्या में राममंदिर निर्माण संबंधित सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि भाजपा संविधान में यकीन रखती है. पार्टी इस संबंध में अदालत के फैसले का पालन करेगी.

देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) घटने की खबरों के बीच केंद्रीय मंत्री रूडी ने कहा कि देश की जीडीपी सात फीसदी पर स्थिर है. ये आने वाले सालों में 10 फीसदी तक पहुंच जाएगी. वहीं नोटबंदी को विश्व का सबसे बड़ा मुद्रा सुधार बताते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र ने काले धन पर अंकुश लगाने के तरीकों की शुरुआत की है. वस्तु एवं सेवा कर लागू होने से आर्थिक ढांचे में सुधार आएगा. इस दौरान उन्होंने जनधन योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, उज्ज्वला योजना और स्वच्छ भारत अभियान के बारे में भी चर्चा की.

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें