comScore
Dainik Bhaskar Hindi

'गुरबानी' की बदौलत विदर्भ के नाम रणजी का खिताब, हैट्रिक मार सुर्खियों में आए, देखें VIDEO

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 04th, 2018 09:41 IST

2k
0
0

डिजिटल डेस्क, भोपाल। 'विदर्भ' ने इंदौर के होल्कर स्टेडियम में खेले गए फाइनल मैच में दिल्ली को 9 विकेट से हराकर पहली बार रणजी का खिताब अपने नाम कर इतिहास रच दिया है। इस हिस्टोरिक्ल मैच में दिल्ली ने टॉस में जरुर जीत हासिल की, लेकिन मैच में करारी शिकस्त का सामना किया। इस मैच में दिल्ली ने पहले बल्लेबाजी कर 295 रनों का लक्ष्य खड़ा किया जिसके जवाब में विदर्भ की टीम ने 547 रनों की पारी खेल दिल्ली को परेशानी में डाल दिया और 252 रनों की बढ़त बना ली। इसके बाद दूसरी पारी में दिल्ली की टीम को विदर्भ के गेंदबाजों ने 280 रनों पर ही समेट दिया और मात्र 29 रन से दिल्ली को शर्मिंदगी भरी हार झेलनी पड़ी। विदर्भ ने रणजी ट्रॉफी 2017-18 का फाइनल अपने नाम कर लिया।

VIDEO में देखिए क्रिकेट मैदान पर तड़पता रहा बल्लेबाज, कोई नहीं आया हाल पूछने

भारत को मिला नया 'तूफानी' तेज गेंदबाज
ये मैच वाकई रोमांचक था जिसमें विदर्भ के गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया, लेकिन तब भी एक गेंदबाज ऐसा सामने आया जिसकी चर्चा सबसे ज्यादा की गयी। दुबला-पतला सा दिखने वाले इस गेंदबाज ने इस पूरे मैच का नक्शा ही बदल दिया और कभी न जीतने वाली टीम के सर जीत का ताज पहना दिया। इस गेंदबाज ने बॉल्ड करने की हैट्रिक बनाकर न सिर्फ अपने नाम को इतिहास में लिखा दिया बल्कि टीम की शानदार जीत का श्रेय भी गुरबानी को ही गया। उन्होंने 59 रन खर्च कर 6 विकेट झटके और पूरे मैच में 8 विकेट चटकाए।

रजनीश गुरबानी के लिए इमेज परिणाम

वसीम जाफर ने लगाया विजयी शॉट
रणजी ट्रॉफी के इतिहास में ये पहली बार है जब विदर्भ ने खिताब अपने नाम किया है। दिल्ली की टीम सात बार रणजी ट्रॉफी जीत चुकी है। पूर्व टेस्ट बल्लेबाज ने भी इस मैच में अपना रिकॉर्ड जारी रखा और वसीम जाफर ने विजयी शॉट लगाया , उन्होंने उस रिकॉर्ड को कायम रखा कि जिस भी रणजी फाइनल में वो खेले, उनकी टीम ने उसे जीता। बतौर खिलाड़ी वसीम जाफर का ये नौवां रणजी खिताब है।

रजनीश गुरबानी के लिए इमेज परिणाम

इतने दुबले थे गुरबानी कि चयनकर्ताओं ने कहा, यह क्या करेगा तेज गेंदबाजी
रजनीश गुरबानी बेहद दुबले-पतले हैं। जब वे विदर्भ के लिए ट्रायल देने पहुंचे थे तब चयनर्ताओं ने उनकी कमजोर कदकाठी को देख कर यह भी कहा था कि यह क्या तेज गेंदबाजी करेगा। आज गुरबानी ऐसे सभी लोगों को गलत साबित कर चुके हैं।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download