•  26°C  Sunny
Dainik Bhaskar Hindi

Home » National » Rape with 3 sadhvi on the force of gun in sant kutir ashram nawada bihar

बिहार: नवादा के आश्रम में तमंचे की नोक पर 3 साध्वियों से रेप

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 12th, 2018 15:18 IST

बिहार: नवादा के आश्रम में तमंचे की नोक पर 3 साध्वियों से रेप

डिजिटल डेस्क, नवादा। दिल्ली, आगरा के बाद अब बिहार से एक ऐसी खबर आ रही है जो शर्मसार कर देने वाली है। यौन उत्पीड़न और रेप से जुड़ा एक मामला बिहार के नवादा जिले में देखने के मिला है। नवादा में स्थित संत कुटीर आश्रम में तीन साध्वियों के साथ दुष्‍कर्म की वारदात सामने आई है। बताया जा रहा है कि आश्रम के ही सेवादारों ने बंदूक की नोक पर घटना को अंजाम दिया था। आरोपियों की पहचान कल्‍पनाथ चौधरी, गिरिजाशंकर चौधरी, तपस्‍यानंद उर्फ श्‍याम चौधरी, अजीत चौधरी (सभी उत्‍तर प्रदेश के बस्‍ती जिले के निवासी) और दिलचंद पटेल (महुआडीह, उत्‍तर प्रदेश) के तौर पर की गई है।

 

 

12 दिसंबर 2017 को हुई थी घटना

जानकारी के अनुसार, इसके अलावा पांच अज्ञात लोगों को भी आरोपी बनाया गया है। घटन को लेकर गोविंदपुर थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है। हालांकि यह घटना 12 दिसंबर 2017 की है, जो अब प्रकाश में आई है। घटना के संबंध में प्राथमिकी 4 जनवरी 2018 को दर्ज कराई गई। बिहार पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापामारी करनी शुरू कर दी है। घटना के बारे में एक पीड़िता ने बताया कि 12 दिसंबर 2017 की रात 10 बजे वह दो अन्‍य साथियों के साथ खाना बना रही थीं। इसी बीच कुछ लोगों ने दरवाजा खटखटाया। जैसे ही खाना बना रही एक साध्वी ने जाकर दरवाजा खोला। आरोपी कल्पनाथ चौधरी गाली-गलौज करते हुए उसे खींचने लगा था। आवाज सुनकर बाकी दोनों साध्वी भी दरवाजे की तरफ दौड़ी, इतने में अन्य आरोपी भी कमरे में घुस गए। इसके बाद सभी आरोपी उन्‍हें एक कमरे में ले गए और दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया।

 

 

 

जान से मारने दी धमकी

घटना को अंजाम देने के दौरान दो अन्य आरोपी भी रिवॉल्वर लेकर खड़े रहे। इस वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी पुलिस को सूचना देने पर जान से मारने की धमकी देते हुए वहां से फरार हो गए। पीड़िता ने बताया कि सभी आरोपी आश्रम की अन्य शाखाओं से संबंध रखते हैं और यहां आया-जाया करते हैं। पीड़िता ने यह भी बताया कि आश्रम में कुछ महीने पहले भी एक साध्वी के साथ दुष्कर्म किया गया था। इतना ही नहीं उस वक्त साध्वी द्वारा विरोध किए जाने पर गोली तक चलाई गई थी, जिसमें आश्रम का एक व्यक्ति भी जख्मी हो गया था। हालांकि यह मामला पुलिस तक नहीं पहुंच सका था।

 

 

घबराकर बंगाल चली गई थीं साध्वियां


घटना से घबराई हुई तीनों साध्वी बंगाल चली गई थी।, लेकिन, आश्रम के कुछ लोगों के कहने पर वह दोबारा लौटीं और पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। एफआईआर दर्ज करने के एक सप्ताह बाद 11 जनवरी को पीड़िता का अदालत में बयान दर्ज कराया गया था। मामला दर्ज होने के बाद से ही सभी आरोपी आश्रम से फरार हैं। 4 साल पहले भी इस आश्रम पर इस तरह के आरोप लगे थे जिसके बाद बाबा ने पुराने आश्रम को छोड़ नया आश्रम बनवाया था।

 

बता दें कि आरोपितों में दो लोग अकबरपुर थाना क्षेत्र के पिथौरी के दिनेश प्रसाद और यूपी के बस्ती जिला के एक आरोपित को पुलिस ने हिरासत में लिया है। दोनों से पूछताछ की जा रही है। हालांकि, पुलिस अभी पूरे मामले में खुलकर कुछ भी नहीं कह रही है।  

loading...
Similar News
जन्म के समय बदले बच्चे, DNA से खुलासा, लेकिन अब बदलने को तैयार नहीं

जन्म के समय बदले बच्चे, DNA से खुलासा, लेकिन अब बदलने को तैयार नहीं

सुषमा ने फिर दिखाई दरियादिली, विदेश में बेटे के शव के साथ फंसी महिला की मदद की

सुषमा ने फिर दिखाई दरियादिली, विदेश में बेटे के शव के साथ फंसी महिला की मदद की

20 दिन पहले ही बनी थी मां, बच्चे को बचाने में मलबे में दब गई महिला

20 दिन पहले ही बनी थी मां, बच्चे को बचाने में मलबे में दब गई महिला

बिहार: पटना-मोकामा पैसेंजर ट्रेन में लगी आग, इंजन समेत 6 बोगियां खाक

बिहार: पटना-मोकामा पैसेंजर ट्रेन में लगी आग, इंजन समेत 6 बोगियां खाक

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

FOLLOW US ON