comScore
Dainik Bhaskar Hindi

बीजेपी का राहुल को जवाब, 'ट्विटर से नहीं चलती विदेश नीति'

BhaskarHindi.com | Last Modified - March 14th, 2019 15:59 IST

2.5k
1
0
बीजेपी का राहुल को जवाब, 'ट्विटर से नहीं चलती विदेश नीति'

News Highlights

  • राहुल गांधी के ट्वीट का बीजेपी ने दिया जवाब।
  • भारत को दर्द होने से राहुल को खुशी होती है: बीजेपी।
  • रविशंकर प्रसाद ने कहा, देश की विदेश नीति ट्विटर से नहीं चलती।


डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। मसूद अजहर के मुद्दे पर चीन-भारत के संबंधों को लेकर किए गए राहुल के ट्वीट का बीजेपी ने करारा जवाब दिया है। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए बीजेपी प्रवक्ता और कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, जब भारत को दर्द होता है तो राहुल गांधी को खुशी क्यों होती है। उन्होंने कहा मसूद अजहर के मामले पर चीन के रूख से भारत दुखी है।
 


रविशंकर प्रसाद ने कहा, राजनीति में विरोध होना चाहिए लेकिन आतंकवाद के मसले पर इस तरह का रवैया ठीक नहीं। आखिर राहुल गांधी को हो क्या गया है। रविशंकर प्रसाद ने सवाल किया है कि, 2009 में UPA द्वारा मसूद अजहर पर बैन लगवाने के प्रयास के दौरान चीन ने यही रवैया अपनाया था तब क्या राहुल गांधी ने कोई ट्वीट किया था।  उन्होंने ये भी कहा कि, राहुल गांधी के चीन से अच्छे संबंध हैं। डोकलाम मुद्दे पर वह चीनी दूत से मुलाकात करते हैं। तो मसूद अजहर के मुद्दे पर वह चीन के साथ अपने संबंधों का प्रयोग करके आतंक के खिलाफ लड़ाई को आगे क्यों नहीं बढ़ाते। 
 


26/11 हमले के बाद सुरक्षाबलों के तैयार होने के बावजूद भी UPA की सरकार ने उन्हें कार्रवाई का आदेश क्यों नहीं दिया। पुलवामा हमले के बाद राहुल गांधी सिर्फ दो दिन तक सरकार के साथ खड़े रहे। उसके बाद उन्होंने एयर स्ट्राइक पर सवाल उठा दिए। उनके नेता इसका सबूत मांग रहे हैं। उन्होंने कहा, राहुल गांधी के ट्वीट जैश-ए-मोहम्मद के दफ्तर में बड़े चाव से पढ़े जाएंगे और दिखाए जाएंगे। रविशंकर प्रसाद विदेश नीति को लेकर कहा, मैं राहुल गांधी को बताना चाहता हूं कि ट्विटर से देश की विदेश नीति नहीं चलती है।
 

मसूद अजहर पर बैन लगाने में चीन द्वारा वीटो लगाने पर बीजेपी ने कहा, चीन को छोड़कर UNSC के सभी देशों ने भारत का समर्थन किया, यह भारत की कूटनीतिक जीत है। पहले भारत को इसके लिए प्रयास करना पड़ता था, लेकिन अब ये देश खुद भारत का समर्थन कर रहे हैं। 


रविशंकर प्रसाद ने कहा...

  • क्या मसूद अजहर जैसे नृशंस हत्यारे के मामले में कांग्रेस का स्वर दूसरा होगा? राहुल गांधी के ट्वीट से ऐसा लगता है कि उन्हें इस बात से खुशी है। भारत को जब भी पीड़ा होती है तो राहुल खुश क्यों होते हैं?
  • राहुल गांधी जी आज आपकी विरासत के कारण ही चीन सुरक्षा परिषद का सदस्य है।
  • आतंकवादी मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने के लिए इस बार प्रस्ताव अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस लेकर आए, चीन को छोड़कर बाकी सभी देशों ने इस प्रस्ताव को सपोर्ट किया। चीन के इस कदम से भारत और भारतवासी बहुत दुखी हैं। 


गौरतलब है कि चीन के अड़ंगे की वजह से आतंकी मसूद अजहर यूएन में ग्लोबल टेररिस्ट नहीं घोषित हो सका। इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला था। राहुल गांधी ने ट्वीट में लिखा, पीएम मोदी चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से डरे हुए हैं, इसीलिए उनके मुंह से एक शब्द नहीं निकला।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download