comScore

परीक्षा केन्द्र प्रभारी के खिलाफ FIR दर्ज करने की मांग, 15 मिनट लेट पहुंची छात्रा को नहीं देने दी परीक्षा

March 15th, 2019 18:33 IST
परीक्षा केन्द्र प्रभारी के खिलाफ FIR दर्ज करने की मांग, 15 मिनट लेट पहुंची छात्रा को नहीं देने दी परीक्षा

डिजिटल डेस्क, सतना। साइंस सब्जेक्ट की परीक्षा न देने पाने का कुछ ऐसा सदमा लगा कि छात्रा प्रगति सिंह बीमार हो गई। उसने खाना-पीना छोड़ दिया और गुमसुम रहने लगी। दूसरी ओर बुधवार को सेंट माइकल सीनियर सेकण्ड्री स्कूल में बनाए गए परीक्षा केन्द्र में छात्रा को प्रवेश न दिए जाने के मामले को जिला बाल कल्याण समिति ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह गौर को पत्र लिखकर सिविल लाइन्स थाना में एफआईआर दर्ज कराने की अनुशंसा की है। जबकि सेंट माइकल स्कूल प्रबंधन को उस वक्त के सीसीटीवी फुटेज उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।

क्या है पूरा मामला
नागौद के रहने वाले अभयराज की बेटी प्रगति सिंह ब्लूम्स एकेडमी में कक्षा 10वीं की छात्रा है। प्रगति का एग्जाम सेंटर सेंट माइकल स्कूल में था। जब वह बुधवार को विद्यालय सांइस विषय की परीक्षा देने पहुंची तो 15 मिनट लेट हो गई थी। जिसके चलते उसे स्कूल प्रबंधन ने स्कूल में प्रवेश नहीं करने दिया। छात्रा और उसके पिता ने स्कूल प्रबंधन से तमाम मिन्नतें की मगर छात्रा को प्रवेश नहीं दिया गया, जबकि 10 बजे विद्यार्थी के लिए रिपोर्टिंग टाइम होता है और परीक्षा शुरू होने का वक्त साढ़े 10 बजे है। इसके बावजूद छात्रा को प्रवेश नहीं दिया गया। छात्रा के सवा 10 बजे प्रवेश करने का सीसीटीवी फुटेज भी उपलब्ध है। छात्रा को जब परीक्षा से वंचित होना पड़ा तो पिता ने इस आशय की लिखित शिकायत कलेक्टर डॉ. सत्येन्द्र सिंह, सीबीएसई बोर्ड और जिला बाल कल्याण समिति से की थी।

प्राथमिकी दर्ज दर्ज कराएं एसपी
जिला बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष शैला तिवारी ने पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर पूरा मामला समझाते हुए संबंधित थाना में प्राथमिकी दर्ज कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने एसपी से यह भी कहा कि प्रकरण में नियमानुसार कार्यवाही कराते हुए पूरी जानकारी समिति को उपलब्ध कराएं। इतना ही नहीं समिति ने स्कूल प्रबंधन से भी मेनगेट और क्लासरूम में लगे सीसीटीवी फुटेज तलब किए हैं।

सेंट माइकल की प्रिंसपल समिति के सामने पेश
गुरुवार को सेंट माइकल की प्रिंसपल जिला बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश हुईं और अपने कथन दर्ज कराए। प्रिंसपल ने समिति को सीबीएसई बोर्ड की गाइडलाइन भी सुपुर्द की। उन्होंने समिति को बताया कि इस मसले पर सिटी मैनेजर एके दुबे का कॉल आया था उन्होंने छात्रा को एग्जाम देने के निर्देश दिए थे। मगर उनसे व्हाट्सएप पर लिखकर भेजने को कहा गया मगर नहीं दिया। समिति की अध्यक्ष ने सेंट माइकल की प्रिंसपल से उस क्लासरूम के प्रश्नपत्र बांटते समय के सीसीटीवी फुटेज भी मांगे जिस कक्षा में प्रगति परीक्षा दे रही थी। समिति यह समझने का प्रयास कर रही है कि प्रश्नपत्र वितरण का वक्त क्या था। क्या प्रश्नपत्र तय समय पर वितरित किए गए या फिर उसमें भी हीलाहवाली की गई है।

Loading...
कमेंट करें
qrhJN
Loading...