comScore

अयोध्या : कोर्ट में सुनवाई टलने पर RSS ने कहा- कानून बनाकर करें मंदिर निर्माण

October 30th, 2018 00:50 IST
अयोध्या : कोर्ट में सुनवाई टलने पर RSS ने कहा- कानून बनाकर करें मंदिर निर्माण

डिजिटल डेस्क, मुंबई। अयोध्या जमीन विवाद की सुनवाई अगले साल तक टलने के बाद राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) अब मामले में सरकार से कानून बनाकर मंदिर निर्माण की अड़चन दूर करने की मांग कर रही है। RSS के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख अरुण कुमार के मुताबिक संगठन राम मंदिर के मुद्दे पर वह साधू संतों के विचारों से सहमत है। संगठन का दावा है कि राम मंदिर बन जाने के बाद देश में एकता और सद्भावना का वातावरण तैयार होगा।

भाईंदर के उत्तन इलाके में स्थित रामभाऊ म्हालगी प्रबोधनी (केशव सृष्टि) में संघ की तीन दिवसीय अखिल भारतीय कार्यकारी बैठक होने जा रही है। इससे पहले पत्रकारों से बातचीत में अरुण कुमार ने कहा कि जमीन विवाद का फैसला अदालत में होने के चलते देरी हो रही है। इसलिए सरकार को कानून बनाकर मंदिर निर्माण में आ रही अड़चन दूर करनी चाहिए। राम मंदिर निर्माण की जगह राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट को सौंप देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि राम मंदिर को लेकर RSS संतों के विचारों का समर्थन करता है। संघ की होने वाली बैठक के बारे में अरुण कुमार ने कहा कि यह बैठक 31 अक्टूबर से 2 नवंबर तक चलेगी। जिसमें संघ और उससे जुड़े 54 संगठन हिस्सा लेंगे। बैठक में राजनीतिक और समसामयिक विषयों पर चर्चा की जाएगी।

कोर्ट ने तीन महीने के लिए टाल दी सुनवाई
इससे पहले चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली बेंच ने इस मामले की सुनवाई 3 महीने के लिए टाल दी है। सोमवार को ही सुप्रीम कोर्ट में चीफ जस्टिस की बेंच में दोनों पक्षकारों ने दलील थी कि नंवबर में सुनवाई शुरू हो जाए, लेकिन गोगोई ने कहा कि इस मामले को जनवरी के लिए पहले हफ्ते के लिए टाला जाता है। तभी यह तय होगा कि कौन सी बेंच मामले की सुनवाई करेगी और सुनवाई की तारीख क्या होगी। कोर्ट ने कहा कि बेंच जनवरी में तय करेगी कि सुनवाई जनवरी में हो कि फरवरी या मार्च में।

कमेंट करें
Kbxnm