comScore
Dainik Bhaskar Hindi

जुर्माना नहीं भरने वालों में सलमान, आदित्य व राज ठाकरे भी शामिल, RTI से मिली जानकारी

BhaskarHindi.com | Last Modified - August 11th, 2018 18:26 IST

461
0
0
जुर्माना नहीं भरने वालों में सलमान, आदित्य व राज ठाकरे भी शामिल, RTI से मिली जानकारी

डिजिटल डेस्क, मुबई। ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों से जुर्माना वसूलने के लिए ई-चालान प्रणाली ज्यादा कारगर साबित नहीं हो रही है। आश्चर्य की बात यह कि ई-चालन का जुर्माना न भरने वालों में राज्य के परिवहन मंत्री दिवाकर रावते के बेटे उमेश रावते, पूर्व उपमुख्यमंत्री अजित पवार, सुप्रसिद्ध अभिनेता सलमान खान, मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे और युवा सेना अध्यक्ष आदित्य ठाकरे जैसे लोग शामिल हैं। यह जानकारी सूचना अधिकार कानून (RTI) से सामने आई है।  

दरअसल मुंबई में यातायात नियमों को तोड़ने वालों को अब ई-चालान भेजा जाता है। सिग्नल तोड़ने, जेब्रा क्रासिंग के उलंघन, तय रफ्तार से अधिक गति से वाहन चलाने व नो एंट्री में प्रवेश जैसे ट्रैफिक नियमों के उलंघन के मामलों में जुर्माना वसूलने के लिए संबंधित वाहन मालिक को ई-चालान भेजा जाता है। RTI से मिली जानकारी के अनुसार मुंबई ट्रैफिक पुलिस को ई-चालान के 119 करोड़ रुपए वसूलने हैं। आश्चर्य कि बात यह है कि जुर्माना राशि न भरने वालों में दिग्गज नेता व अभिनेता भी शामिल हैं। 

ट्रैफिक विभाग की कार्रवाई को नजरअंदाज
ई-चालान के बाद जुर्माना न भरने वालों में अभिनेता सलमान खान, मशहूर कमेडियन कपिल शर्मा, परिवहन मंत्री दिवाकर रावते, राकांपा के वरिष्ठ नेता अजित पवार, मुंबई के महापौर विश्वनाथ म्हडेश्वर, युवा सेना अध्यक्ष आदित्य ठाकरे, भाजपा विधायक राम कदम जैसे लोग शामिल हैं। सलमान के भाई अरबाज खान की प्रोडक्शन कंपनी के नाम पर पंजीकृत वाहन (एमएच-02 बीवाई-2727) पर इस साल जनवरी व जुलाई में तेज रफ्तार से वाहन चलाने के चार मामलों में ई-चालान काटा गया। 4 हजार रुपए का जुर्माना ट्रैफिक विभाग आज तक नहीं वसूल सका।

हालांकि इस मामले में सलमान के कार्यालय का कहना है कि हमें ट्रैफिक विभाग का कोई नोटिस नहीं मिला है। इसी तरह आदित्य ठाकरे की कार को तय सीमा से अधिक गति से चलाने के मामले में 6 बार चालान काटा गया। परिवहन मंत्री दिवाकर रावते के पुत्र उमेश रावते के वाहन के खिलाफ ओवर स्पीडिंग के मामले में ई-चालान जारी किया गया। लेकिन मंत्री पुत्र ने 1 हजार रुपए का जुर्माना अदा करने में कोई रुचि नहीं दिखाई। 

172 करोड़ में से सिर्फ 53 करोड़ की वसूली 
अक्टूबर 2016 से जून 2018 तक ट्रैफिक विभाग ने 53 लाख ई-चालान जारी किए। इससे कुल 172.44 करोड़ जुर्माना लगाया गया। लेकिन इसमें से केवल 53.8 करोड की ही वसूली हो सकी। भुगतान के लिए आनलाईन विकल्प होने के बावजूद लोग जुर्माना राशि नहीं अदा कर रहे। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर