comScore

साक्षी महाराज बोले- 2019 के बाद नहीं होंगे कोई चुनाव, देश में मोदी नाम की सुनामी

March 16th, 2019 12:42 IST

हाईलाइट

  • साक्षी महाराज ने कहा है कि 2019 में होने वाला लोकसभा चुनाव आखिरी चुनाव होगा।
  • साक्षी महाराज ने कहा कि इसके बाद 2024 में कोई चुनाव नहीं होगा।
  • उन्नाव से सांसद साक्षी ने कहा कि इस बार मोदी नाम की सुनामी चल रही है।

डिजिटल डेस्क, उन्नाव। अपने विवादित बयानों से सुर्खियों में रहने वाले साक्षी महाराज ने कहा है कि 2019 में होने वाला लोकसभा चुनाव आखिरी चुनाव होगा। साक्षी महाराज ने कहा कि इसके बाद 2024 में कोई चुनाव नहीं होगा। उन्नाव से सांसद साक्षी ने कहा कि इस बार मोदी नाम की सुनामी चल रही है। 

साक्षी महाराज ने उन्नाव में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, 'यह चुनाव पार्टी का चुनाव नहीं है, न ही यह साक्षी महाराज का चुनाव है। देश में जागृति आई है और हिंदू जाग गए हैं। मैं संन्यासी हूं, जो मन में आता है कह देता हूं। मुझे लगता है कि यह चुनाव होने के बाद 2024 में चुनाव नहीं होगा। 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में देश में मोदी लहर थी, लेकिन इस बार मोदी नाम की सुनामी है। मुझे लगता है कि महागठबंधन नाम की कोई भी चीज इसे नहीं रोक सकती। कोई भी ताकत नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनने से नहीं रोक सकती है। 

वहीं राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी 2024 में लोकसभा चुनाव नहीं होने को लेकर बात कही है। हालांकि दोनों ने ही अलग-अलग आशय में ये बात कही है। गहलोत ने कहा कि कि पीएम मोदी का लोकतंत्र में कोई विश्वास नहीं है। गहलोत ने कहा कि अगर बीजेपी 2019 आम चुनाव जीत लेती है, तो पीएम मोदी इसके बाद कोई चुनाव नहीं होने देंगे।

इससे पहले टिकट कटने की बात सामने आने पर उन्नाव से भाजपा सांसद साक्षी महाराज ने भाजपा को धमकी दी थी। साक्षी महाराज ने उत्तर प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय को पत्र लिखा था। इसमें साक्षी महाराज ने कहा था कि उनका टिकट काटने पर पार्टी को गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं।

बता दें कि साक्षी महाराज अपने विवादित बयानों के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने पिछले साल राम मंदिर मुद्दे पर कहा था कि अयोध्या की बजाय पहले दिल्ली की जामा मस्जिद तोड़नी चाहिए, वहां सीढ़ियों के नीचे मूर्तियां हैं। अगर वहां मूर्तियां न मिले तो मुझे फांसी पर टांग देना। साक्षी महाराज ने कहा था कि मुगलकाल में हिंदुओं के सम्मान के साथ खिलवाड़ किया गया। मंदिर तोड़े गए। 3000 से ज्यादा मस्जिदें बनाई गई। 

Loading...
कमेंट करें
BievC
Loading...