comScore
Dainik Bhaskar Hindi

सलमान खान की 'टाइगर जिंदा है' ने तोड़ा रिकॉर्ड, बाहुबली-2 से रह गई पीछे

BhaskarHindi.com | Last Modified - December 23rd, 2017 17:23 IST

9.6k
0
0

डिजिटल डेस्क, मुंबई। क्रिसमस और न्यू ईयर के मौके पर रिलीज हुई बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान की मोस्ट अवेटेव फिल्म 'टाइगर जिंदा है' ने बॉक्स ऑफिस पर एक नया रिकॉर्ड बनाया है। 5 साल बाद 'एक था टाइगर' का सीक्वल 'टाइगर जिंदा है' रिलीज हुआ है। फिल्म ने रिलीज होते ही पहले दिन फिल्म ने 33.75 करोड़ रुपये की कमाई कर ली है। रिलीज से पहले लग रहा था कि सलमान खान की यह मोस्ट अवेटेड फिल्म टाइगर जिंदा है, बाहुबली-2 का रिकॉर्ड तोड़ सकती है, मगर ऐसा हुआ नहीं। इसी साल रिलीज हुई बाहुबली 2 की ओपनिंग कलेक्शन (करीब 41 करोड़ रुपए हिंदी में) का रिकॉर्ड कोई फिल्म अब तक नहीं तोड़ पाई है, लेकिन ये फिल्म डब्ड फिल्म थी।

टाइगर ने तोड़ा गोलमाल अगेन का रिकॉर्ड
साल की सबसे बड़ी हिंदी ओपनर का रिकॉर्ड फिल्म गोलमाल अगेन के नाम रहा था। गोलमाल अगेन ने फिल्म का ओपनिंग कलेक्शन 30.14 करोड़ था, लेकिन अब टाइगर जिंदा है ने गोलमाल अगेन का ये रिकॉर्ड तो तोड़ ही दिया। इस साल तीसरे नंबर पर भाईजान की ही फिल्म ट्यूबलाइट थी, जिसने ओपनिंग डे पर 21.15 करोड़ रुपये की कमाई की थी। हालांकि यह फिल्म फ्लॉप रही थी। इसके बाद चौथे नंबर पर शाहरुख खान की फिल्म रईस थी।

गौरतलब है कि वाल्मिकी समाज ने फिल्म टाइगर जिंदा है के हिरो सलमान खान और एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी के खिलाफ केस दर्ज कराया है। एक रिएलिटी शो में फिल्म 'टाइगर जिंदा है' के प्रमोशन के दौरान सलमान खान ने जातिसूचक शब्द 'भंगी' का इस्तेमाल किया था। सलमान के अलावा एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी ने मीडिया से बातचीत के दौरान बयान दिया था कि वे घर में भंगियों की तरह ड्रेसअप करती हैं।


वाल्मीकि समाज का कहना है कि पब्लिकली 'भंगी' शब्द का इस्तेमाल करने से हमारे समाज की भावनाओं को ठेस पहुंची है। अलीगढ़ में  महर्षि वाल्मीक सेना के जिलाध्यक्ष राहुल चेतन ने कहा कि सलमान खान व शिल्पा शेट्टी ने वाल्मीकि समाज के लिए अभद्र टिप्पणी की है। दोनों को इसके लिए माफी मांगनी चाहिए। फिल्म का विरोध राजस्थान, गुजरात और यूपी समेत कई राज्यों में किया जा रहा है। महर्षि वाल्मीक सेना का ये विरोध अजमेर से शुरू हुआ था जो अब जयपुर, कोटा और बिकानेर तक पहुंच गया है। कई जगहों पर फिल्म के पोस्टर जलाए गए हैं और तोड़फोड़ की गई।

मामले में सीओ बीएल मधवाल का कहना है कि वाल्मीकि समाज ने पुलिस को तहरीर दी है। सीडी देखने के बाद सारे तथ्यों पर गहनता से जांच की जायेगी। सच्चाई सामने आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

ई-पेपर