comScore

खजराना गणेश, दुनियाभर में प्रसिद्ध है ये तिल चतुर्थी की विशेष पूजा

January 04th, 2018 14:08 IST
खजराना गणेश, दुनियाभर में प्रसिद्ध है ये तिल चतुर्थी की विशेष पूजा

डिजिटल डेस्क, इंदौर। माघ माह में कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को माघी संकटा चतुर्थी है। साल के 12 माह के  क्रम में यह सबसे बड़ी चतुर्थी मानी  गई है। इस वर्ष यह 5 जनवरी को है। गणपति बप्पा की आराधना करने के लिए ये दिन अति उत्तम बताया गया है। इस दिन बप्पा की उपासना, पूजन विधि-विधान से करने के बाद जो भी इच्छा हो अवश्य ही मांगना चाहिए। इससे बप्पा भक्त को निराश नही होने देते। मध्यप्रदेश के इंदौर जिले में स्थित खजराना में एक ऐसा ही खजरना गणेश मंदिर है जहां तिल चतुर्थी के दिन पूजन का दृश्य देखने योग्य होता है।


सोने और हीरे के आभूषण
यहां तिल चतुर्थी मेला 5 जनवरी शुक्रवार से तीन दिनों तक चलेगा। इस दौरान बप्पा को सोने और हीरे के आभूषणों से सजाया जाएगा, जो कि लगभग 2 करोड़ के हैं। ध्वज पूजा में हजारों भक्त शामिल बप्पा के सामने अपनी प्रार्थना लेकर आते हैं। 

संबंधित इमेज


51 हजार मोदक, सवा लाख लड्डू
बप्पा को मोदक प्रिय हैं अतः यहां मेले के दौरान तिल और गुड़ के 51 हजार मोदकों का भोग लगाया जाएगा। साथ ही सवा लाख लड्डू भी गणपति को चढ़ाए जाएंगे। करीब 30 हलवाई 72 घंटे में इस प्रसाद को तैयार करेंगे। तीनों ही दिन यहां पूजन का दृश्य अलग ही होता है। 6 जनवरी को अजवाइन व 7 जनवरी को गोंद के लड्डू भोग में शामिल होंगे। 


तीन दिनों तक खास नजारा
तीनों ही दिन नजारा बेहद आकर्षक होता है। तिल चतुर्थी की पूजा हर साल ही भक्तों के लिए विशेष आकर्षक का केंद्र होती है। खजराना में इस दौरान वे भक्त भी आते हैं जो बप्पा के आशीर्वाद से विदेशों में बस गए हैं। यहां आपको बता दें कि खजराना गणेश मंदिर दुनियाभर में प्रसिद्ध है। यहां बड़ी-बड़ी सेलिब्रिटीज भी अक्सर ही दर्शनों के लिए आते हैं। यहां मांगी गयी मन्नत कभी खाली नही जाती। इस मंदिर का निर्माण अहिल्या बाई होल्कर द्वारा किया गया था। 

कमेंट करें
DRWVh