comScore

सऊदी अरब में 37 लोगों को मौत की सजा, आतंकी गतिविधियों में थे शामिल

April 23rd, 2019 20:52 IST
सऊदी अरब में 37 लोगों को मौत की सजा, आतंकी गतिविधियों में थे शामिल

हाईलाइट

  • सऊदी अरब में 37 लोगों को आतंकवाद से जुड़े अपराधों के मामले में मंगलवार को मौत की सजा दी गई है।
  • ये सभी सऊदी अरब के ही नागरिक थे।
  • सऊदी अरब के आंतरिक मंत्रालय ने इसकी जानकारी दी है।

डिजिटल डेस्क, दुबई। सऊदी अरब में 37 लोगों को आतंकवाद से जुड़े अपराधों के मामले में मंगलवार को मौत की सजा दी गई है। ये सभी सऊदी अरब के ही नागरिक थे। सऊदी अरब के आंतरिक मंत्रालय ने इसकी जानकारी दी है। चरमपंथी आतंकवादी विचारधाराओं को अपनाने और सुरक्षा को बाधित करने के साथ-साथ अराजकता फैलाने और सांप्रदायिक संघर्ष को भड़काने के लिए कई आतंकवादी संगठन बनाए जाने को लेकर ये सजा दी गई है।

सऊदी प्रेस एजेंसी के अनुसार इन लोगों पर देश के हितों के खिलाफ 'विरोधी दलों' का सहयोग करने का भी आरोप था। रियाद की स्पेशलाइज्ड क्रिमिनल कोर्ट ने सभी को कानून के अनुसार दोषी पाया था और मौत की सजा सुनाई थी। रिपोर्ट में कहा गया है कि मौत की ये सजा सिर कलम कर दी गई है। इनमें से दो पुरुषों के शवों को सार्वजनिक रूप से कई घंटों तक एक पोल पर लटकाकर भी रखा गया, जिस कारण विवाद खड़ा हो गया है। दरअसल, सऊदी में अकसर इस तरह का सार्वजनिक प्रदर्शन नहीं किया जाता है।

राज्य में आतंकी संगठन अल-कायदा और इस्लामिक स्टेट के अनुयायी सऊदी सुरक्षा बलों को लगातार अपना निशाना बनाते रहे हैं। एक दिन पहले, इस्लामिक स्टेट ग्रुप ने कहा था कि रविवार को ज़ुल्फी शहर में सऊदी सिक्यॉरिटी बिल्डिंग पर किए गए हमले के पीछे उसी का हाथ था जिसमें चार गनमैन मारे गए थे और तीन सुरक्षा अधिकारी घायल हो गए थे। एजेंसी के अनुसार मौत की सजा रियाद, मुस्लिमों के पवित्र शहर मक्का और मदीना, मध्य कासिम प्रांत और पूर्वी प्रांत में दी गई है। 

कमेंट करें
j8XK7