comScore

जब्त किए बाघ के अवशेष, किया अंतिम संस्कार, पोतलई में शिकार के मामले में कार्रवाई

जब्त किए बाघ के अवशेष, किया अंतिम संस्कार, पोतलई में शिकार के मामले में कार्रवाई

डिजिटल डेस्क, सिवनी। पिछले दिनों यहां बाघ की खाल बरामद होने के मामले में वन विभाग ने कार्रवाई को आगे बढ़ते हुए बाघ के शरीर के अन्य अवशेष भी बरामद करने में सफलता हासिल की है। मामले में अब तक 9 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। बाघ की खाल जब्ती के मामले में एक के बाद एक हुए खुलासे में पकड़े गए आरोपियों के पास से बाघ के शेष अंगों को बरामद कर लिया गया। कुल नौ आरोपियों को जेल भेज दिया गया है। दक्षिण सामान्य वन मंडल के अमले ने मुख्य आरोपी की निशानदेही पर गांव के ही एक कुंए से बाघ के अवशेष बरामद किए।

बुधवार को नियमानुसार अवशेषों का अंतिम संस्कार कर दिया। डीएफओ टीएस सूलिया ने बताया कि आरोपियों से बाघ के अवशेष अलग अलग स्थानों से बरामद किए गए थे।शिकारियों की कारस्ताानी के कारण बाघों की संख्या में उत्साहजनक इजाफा नहीं हो पा रहा है।

अब तक ये हुए गिरफ्तार
पेंच के बफर से सटे रूखड़ वन परिक्षेत्र के पोतलई गांव में बाघ के शिकार के मामले में अब तक नौ आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है। उनके पास से बाघ की खाल, नाखून और अन्य अंग और एक बाइक जब्त की गई। पोतलइ निवासी हेमचंद पिता कुंदेलाल भलावी, दीपसिंह पिता रवल सिंह, खुडसीराम पिता पूनाराम, महालाल पिता तेजलाल, बब्लू पिता मुन्ना दुबे, विनोद पिता इंदरलाल भलावी, किशोर भलावी, रघुनाथ उर्फ छोटू भलावी, हन्नूलाल पिता समरलाल मर्सकोले को पकड़ा गया है।

नहीं रूक रहा शिकार 
पुलिस और वन विभाग की सख्ती के बाद भी जंगल में शिकार की घटनाओं में कमी नहीं हो पा रही है। महाकोशल के आस पास आधा दर्जन नेशनल पार्क एचं अभ्यारण्य है, जहां पर्याप्त संख्या में बाघ मौजूद हैं। किंतु शिकारियों की कारस्ताानी के कारण बाघों की संख्या में उत्साहजनक इजाफा नहीं हो पा रहा है।

कमेंट करें
R5LKo