comScore

पीड़ा पहुंचाएगी शनि की बदली चाल, करें ये उपाय...

December 25th, 2017 15:21 IST
पीड़ा पहुंचाएगी शनि की बदली चाल, करें ये उपाय...

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। शनि को शांत करना उतना आसान भी नही। साल 2018 में भी न्याय के देवता शनि अपना असर दिखाएंगे। साढ़े-साती और अढैया से कन्या, वृष, धनु और मकर राशि के जातक पीड़ित रहेंगे। न्याय के देवता कर्म के अनुसार ही दंड देने वाले बताए जाते हैं, किंतु कुछ ऐसे भी उपाय हैं जिन्हें अपनाकर आप साढ़े साती और अढैया में भी उनके शुभ दृष्टि के पात्र बन सकते हैं। यहां हम आपको शनि की कुदृष्टि से बचने और उन्हें प्रसन्न करने के तरीके के बारे में बताने जा रहे हैं...

1. सबसे पहले तो हर शनिवार को शनि देव की पूजा प्रारंभ करें और उन्हें नियमानुसार तिल और तेल चढ़ाएं। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार यह उपाय सर्वाधिक सरल और उत्तम बताया गया है। 

2. इन्हें अत्यधिक क्रूर देवता भी माना जाता है, दंड देने वे किसी भी तरह का दया भाव नही दिखाते। शनि की साढ़े साती या महादशा चल रही है तो शनिवार को शुद्ध तेल का दान करें। 

3. शनिदेव को उनके दस नामों के साथ जाप करके भी प्रसन्न किया जा सकता है। यह दस नाम हैं। कोणस्थ,पिंगल,बभ्रु,कृष्ण,रौद्रान्तक, यम, सौरि, शनैश्चर,मंद व  पिप्पलाद।


4. पीपल के पेड़  में विष्णु का वास माना गया है। अतः हर शनिवार को पीपल के पेड़ की जड़ों में जल अर्पित करें एवं शाम के समय दीपक जलाएं। 
 

5. शनिदेव को नीले-काले रंग का फूल चढ़ाएं। ॐ शं शनैश्चराय नमः मंत्र का जाप करें। यह आपके मन को भी शांति प्रदान करेगा।

6. काले चने चढ़ाना भी उर्पयुक्त उपाय बताया गया है। इसके अलावा आप सरसों के तेल का दीपक भी जला सकते हैं।

7. समुद्री नाव की कील या काले घोड़े की नाल  से लोहे की अंगूठी बनवाकर उसे मध्यमा अंगुली में धारण करें। इससे पहले उसे तिल के तेल में रखकर शनि मंत्र का जाप करें। 

कमेंट करें
T8NF0