comScore
Dainik Bhaskar Hindi

विंध्य शक्तिपीठ मैहर में शारदीय नवरात्र मेला में आएंगे लाखों श्रद्धालु, बिछुड़ों को मिलाएंगी मंदिर की सीढ़ियां

BhaskarHindi.com | Last Modified - October 09th, 2018 18:17 IST

2.4k
3
0
विंध्य शक्तिपीठ मैहर में शारदीय नवरात्र मेला में आएंगे लाखों श्रद्धालु, बिछुड़ों को मिलाएंगी मंदिर की सीढ़ियां

डिजिटल डेस्क, सतना। शारदेय नवरात्र 10 अक्टूबर से आरंभ हो रहे हैं।  समूचे शारदा धाम में 162 सीसीटीवी कैमरे चप्पे-चप्पे की निगहबानी करेंगे। कैमरों की निगाह से कुछ भी ओझल नहीं हो सकेगा। इस बार मंदिर की ओर जाने वाली सीढ़िय़ां बिछुड़े साथियों को अपनों से मिलाएगी। इस नवाचार की शुरुआत शारदा प्रबंधक समिति के प्रशासक और एसडीएम गणेश अग्रवाल ने खुद की है। दरअसल, मेला में भीड़ के रेला की बदौलत कई लोग अपनों से बिछड़ जाते हैं ऐसे में उन्हें सीढ़िय़ों पर खड़ा रहना होगा, जिसका एनाउंसमेंट खोया-पाया केन्द्र से किया जाएगा कि अमुक व्यक्ति सीढ़ी नम्बर फलां में जाकर मिल ले। पिछले साल की तरह इस बरस भी करीब 8 जिलों के तकरीबन 1200 जवान मेला की सुरक्षा व्यवस्था में लगाए जाएंगे।

दुल्हन की तरह सजा मेला परिसर
मेला परिसर को दुल्हन की तरह सजाया गया है। घंटाघर चौक से लेकर मंदिर की सीढ़िय़ों तक लाइटिंग की गई है। तोरण द्वारों में झालरें लगाई गईं हैं। अंधेरा होते ही मेला परिसर रंग-बिरंगी रोशनी से सराबोर हो जाएगा। गर्भगृह के मंदिर के गुम्बद की कुछ यूं लाइटिंग की गई है कि भक्तों को नीचे से ही त्रिकूट पर्वत की छंटा मंत्रमुग्ध कर देगी। सीढ़िय़ों के रंगरोगन से लेकर मरमम्मतीकरण का काम कल तक पूरा हो जाएगा। मैहर एसडीएम पूरी तैयारियों पर नजर बनाए हुए हैं। मेला को लेकर मेला परिसर के दुकानदारों के भीतर खासा उत्साह है। प्रसादों और अन्य सामानों से दुकानें अट गई हैं।

कंट्रोल रूम में 24 घंटे तैनाती
एसडीएम ने बताया कि मेला परिसर में लगाए गए 112 सीसीटीवी कैमरों का कंट्रोल रूम समिति के कार्यालय में बनाया गया है जबकि पुलिस विभाग के 50 कैमरों का कंट्रोल रूम पुलिस की निगरानी में काम करेगा। राउण्ड द क्लॉक में एक कर्मचारी की तैनाती हर वक्त कंट्रोल रूम में रहेगी जो इन कैमरों पर होने वाली गतिविधियों पर नजर रखेगा और कुछ भी संदिग्ध होने पर इसकी जानकारी फौरन पुलिस को दी जाएगी। हाईटेक तरीके से मेला परिसर समेत पूरे मैहर शहर की निगरानी की जा रही है। महिलाओं के लिए प्रशासन ने त्रिकूट पर्वत पर आंचल कक्ष की स्थापना की है जहां धात्री माताएं अपने बच्चे को स्तनपान करा सकती हैं।

ब्लड डोनर्स के इंतजाम
समिति ने मेला परिसर में ब्लड डोनर्स के इंतजाम भी किए हैं। किसी घटना-दुर्घटना एवं आवश्यकता अनुसार लोगों को ब्लड की आवश्यकता के लिए अलग-अलग आरएच फैक्टर के रक्तदाताओं की मौजूदगी रहेगी। इसके अलावा रक्तआताओं के सम्पर्क नम्बर भी उपलब्ध होंगे जिन्हें वक्त पडऩे पर तुरंत मौके पर बुलाया जा सके। बिजली, पानी और पेयजल समस्या से निजात पाने के लिए संबंधित विभागों का अमला तैनात रहेगा। इस काम के लिए 3 सैकड़ा से ज्यादा कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। मैहर में नौ दिन के लिए मांस, मछली और अण्डे की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

1200 जवान संभालेंगे सुरक्षा व्यवस्था
मैहर के मेला क्षेत्र पर वरिष्ठ प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों समेत 12 सौ से अधिक जवानों की नजर रहेगी। जिले के पुलिस बल के अलावा मंडला, सिंगरौली, छिंदवाड़ा, सीधी, रीवा और इंदौर के पुलिस बल को भी व्यवस्था में लगाया गया है। सुरक्षा व्यवस्था में एडिशनल एसपी स्तर के 3 अधिकारियों समेत 13 डीएसपी, 25 टीआई, 40 एसआई तथा 55 एएसआई तैनात किए गए हैं। महिला पुलिस कर्मियों की ड्यूटी भी लगाई गई है। यात्रियों की सुरक्षा के लिए डॉग स्क्वॉयड द्वारा पूरे मेला क्षेत्र की सघन चेकिंग की जाएगी और सादी वर्दी में भी पुलिस बल व महिला पुलिस बल तैनात किया जाएगा।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें