comScore

शीना बोरा हत्याकांड : मिखाइल ने कहा- सच छिपाने इंद्राणी ने मनोरोगियों के अस्पताल में किया था भर्ती

July 24th, 2018 00:21 IST
शीना बोरा हत्याकांड : मिखाइल ने कहा- सच छिपाने इंद्राणी ने मनोरोगियों के अस्पताल में किया था भर्ती

डिजिटल डेस्क, मुंबई। शीना बोरा हत्याकांड मामले में सोमवार को शीना बोरा के भाई मिखाइल की सीबीआई कोर्ट में गवाही हुई। इस दौरान मिखाइल ने कहा कि इंद्राणी मुखर्जी ने मुझे मनोरोगियों के अस्पताल में इसलिए भर्ती किया था, ताकि लोग मेरी इस बात पर विश्वास न करे कि इंद्राणी मेरी मां है। उन्होंने कहा, 'इंद्राणी ने मुझे पागल साबित करने के लिए मुंबई के मसीना अस्पताल में भर्ती किया था। इंद्राणी ने मुझे अपने कार्यालय में भी बुलाया था और मेरा परिचय अपने छोटे भाई के रुप में कराया था।' 


मिखाइल ने अदालत में कहा, 'इंद्राणी ने मेरा एडमिशन बेंगलुरु के बड़े स्कूल में कराया था। जहां बड़ी संख्या में विदेशी बच्चे पढ़ते थे। वहां का वातावरण मुझे रास नहीं आ रहा था इसलिए मैंने इंद्राणी से कहा कि मेरा दाखिला मध्यम दर्जे के स्कूल में करा दो। इस पर इंद्राणी ने मुझे कड़ी डाट लगाई। स्कूल में मेरी फीस का भुगतान इंद्राणी ही करती थी। कुछ समय बाद इंद्राणी ने मुझे मुंबई बुला लिया। यहां आने के बाद मुझे एक होटल में ठहराया गया।'


दूसरे दिन इंद्राणी मुझसे मिलने के लिए होटल आई और मुझे साथ लेकर  फिनिक्स मॉल गई। मॉल में इंद्राणी ने संजीव खन्ना से मेरा परिचय अपने क्लाइंट के रुप कराया जबकि खन्ना से कहा कि यह (मिखाइल) मेरा भाई है। कुछ समय बाद खन्ना मुझे एक डिस्को में ले गए जहां उन्होंने मुझसे एक खास शराब के सेवन के बारे में पूछा तो मैंने कहा कि मैंने इस तरह की शराब पहले नहीं पी है। बाद में मैंने उसके दो पैग पिए जिसके बाद मैं चेतना शून्य हो गया। मेरी आंख खुली तो मैंने अपने को एक अलग माहौल में पाया। मैं मसीना अस्पताल के बेड पर था। इससे पहले मुझे पीटा गया था। डाक्टरों ने बताया कि मेरी बहन इंद्राणी ने मुझे अस्पताल में भर्ती कराया है। यहां एक महीने मेरे साथ क्रूर व्यवहार किया गया। इजेक्शन के साथ मुझे बिजली के झटके दिए गए। तब मुझे इस बात का एहसास हुआ कि इंद्राणी नहीं चाहती थी कि मैं उसे अपनी मां बताऊं।

कमेंट करें
VDveI