comScore

कांग्रेस-राकांपा गठबंधन छोड़ सकते हैं शेट्टी, प्रकाश आंबेडकर से हाथ मिलाने की तैयारी  

February 13th, 2019 21:00 IST
कांग्रेस-राकांपा गठबंधन छोड़ सकते हैं शेट्टी, प्रकाश आंबेडकर से हाथ मिलाने की तैयारी  

डिजिटल डेस्क, मुंबई। लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन के प्रयास में जुटी कांग्रेस-राष्ट्रवादी कांग्रेस और स्वाभिमानी शेतकरी संगठन के बीच की चर्चा ठप हो गई है। सांसद राजू शेट्टी के नेतृत्व वाली स्वाभिमानी शेतकरी संगठन लोकसभा की तीन सीटों के मांग पर अड़ी हुई है। पार्टी हातकणंगले के अलावा बुलढाणा और वर्धा लोकसभा सीट चाहती है। जबकि कांग्रेस स्वाभिमानी शेतकरी संगठन के लिए एक से ज्यादा सीटें छोड़ने के लिए तैयार नजर नहीं आ रही है। सूत्रों के अनुसार शेट्टी कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस के गठबंधन में शामिल होने को लेकर थोड़ी दुविधा में भी हैं। दरअसल राज्य की 180 चीनी मिलों के पास किसानों का गन्ने का उचित एवं लाभकारी मूल्य (एफआरपी) का 1700 करोड़ रुपए का भुगतान बाकी हैं। इसमें से अधिकतर चीनी मिले राष्ट्रवादी कांग्रेस और कांग्रेस के नेताओं के कब्जे में हैं। इसके मद्देनजर पश्चिम महाराष्ट्र अंचल में स्वाभिमानी शेतकरी संगठन के समर्थक किसानों में इस बात को लेकर नाराजगी है, जिन चीनी मिलों के मालिकों ने गन्ने का भुगतान रोककर रखा है, शेट्टी उसी पार्टी के नेताओं के साथ चुनाव के लिए गठबंधन चाह रहे हैं। वे कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेताओं के साथ मंच साझा कर रहे हैं। किसानों की नाराजगी को भांपते हुए शेट्टी ने बीते दो सप्ताह से कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेताओं से दूरी बना ली है। इस कारण कांग्रेस और शेट्टी के बीच गठबंधन को लेकर शुरु बातचीत ठप हो गई है। शेट्टी कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस के अलावा नए गठबंधन के विकल्प पर भी विचार कर रहे हैं।  

गठबंधन नहीं हुआ तो सात सीटों पर लड़ेंगे 

स्वाभिमानी शेतकरी संगठन के प्रदेश प्रवक्ता अनिल पवार ने ‘दैनिक भास्कर’ से बातचीत में कहा कि कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस लोकसभा की हातकणंगले सीट देकर हम पर ऐहसान नहीं कर रही है क्योंकि हातकणंगले हमारी सिटिंग सीट है। पवार ने कहा कि यदि दोनों दल गठबंधन के लिए शेट्टी के चेहरे का इस्तेमाल करना चाहती हैं तो उन्हें कुल तीन सीटें देनी होंगी। पवार ने कहा कि अगले कुछ दिनों में पार्टी की कार्यकारिणी की बैठक पुणे में होगी। इसी बैठक में शेट्टी गठबंधन के बारे में अंतिम फैसले की घोषणा कर सकते हैं। पवार ने कहा कि यदि कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस से गठबंधन को लेकर बात नहीं बन पाएगी तो हम भारिप बहुजन महासंघ के अध्यक्ष प्रकाश आंबेडकर के नेतृत्व वाले वंचित बहुजन आघाड़ी के साथ गठजोड़ करके नया गठबंधन बनाएंगे। पवार ने कहा कि यदि गठबंधन नहीं हुआ तो पार्टी राज्य की सात लोकसभा सीटों पर उम्मीदवार उतारेगी। इसमें हातकणंगले, बुलढाणा और वर्धा, सांगली, कोल्हापुर, माढ़ा, धुलिया लोकसभा सीट है। इसके अलावा औरंगाबाद सीट पर भी उम्मीदवार उतारने की मांग आ रही है। 

अपनी शर्तों पर गठबंधन करना चाहते हैं शेट्टी 

स्वाभिमानी शेतकरी संगठन की मांग राज्य के किसानों की संपूर्ण कर्ज माफी और स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू करने की है। पार्टी इन दोनों मांगों को कांग्रेस से अपने लोकसभा के घोषणापत्र में शामिल करवाना चाहती है। शेट्टी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से संपूर्ण कर्ज माफी को लेकर चर्चा हुई जिसमें राहुल ने कर्ज माफी पर सहमति जताई है। 
 

कमेंट करें
Survey
आज के मैच
IPL | Match 40 | 22 April 2019 | 08:00 PM
RR
v
DC
Sawai Mansingh Stadium, Jaipur