comScore

अयोध्या: रामलला के दर्शन करने के बाद बोले उद्धव- जल्द बनेगा राम मंदिर


हाईलाइट

  • अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर सियासत तेज हो गई है
  • शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने अपने 18 नए सांसदों के साथ किए रामलला के दर्शन
  • चुनाव से पहले भी अपने परिवार के साथ अयोध्या पहुंचे थे उद्धव

डिजिटल डेस्क, अयोध्या। राम मंदिर निर्माण को लेकर फिर से सियासत तेज हो गई है। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने आज (16 जून) अयोध्या में अपने 18 नए सांसदों के साथ रामलला के दर्शन किए। इस दौरान उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे और राज्यसभा सांसद संजय राउत भी मौजूद रहे। रामलला के दर्शन के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में उद्धव ठाकरे ने कहा, राम मंदिर हमारे लिए चुनावी मुद्दा नहीं है। अयोध्या ऐसी जगह है जहां बार-बार आने का दिल करता है और पता नहीं आगे कितनी बार आऊंगा। हमें पक्का विश्वास है कि जल्द से जल्द यहां राम मंदिर बनेगा।

राम मंदिर निर्माण को लेकर उद्धव ठाकरे ने कहा- 'काफी लंबे समय से मामला कोर्ट में है। सरकार अब मजबूत है और हम सब एक साथ हैं। मोदी जी में फैसला लेने की हिम्मत भी है। अगर सरकार राम मंदिर बनाने का फैसला लेती है तो इसे रोकने वाला कोई नहीं होगा। उद्धव ठाकरे ने कहा, बालासाहब यहीं चाहते थे कि सब हिन्दू एक हो जाएं और हिंदुओं की एकता कायम रहें, इसलिए हमने महाराष्ट्र के बाहर चुनाव नहीं लड़ा। कल से लोकसभा का सत्र शुरू हो रहा है, इसलिए संसद में प्रवेश करने से पहले सभी शिवसेना सांसद रामलला का आशीर्वाद लेने के लिए यहां आए। हमें भरोसा है कि मंदिर का निर्माण जल्द से जल्द किया जाएगा।

उद्धव ठाकरे अपने पूरे परिवार के साथ रविवार सुबह ही अयोध्या पहुंचे। जबकि शिवसेना के सभी सांसद शनिवार की शाम को ही अयोध्या पहुंच गए थे। यूपी की योगी सरकार ने उद्धव ठाकरे और उनके सभी सांसदों को राज्य अतिथि का दर्जा दिया है। 

बता दें कि, चुनाव से पहले भी उद्धव अपने परिवार के साथ अयोध्या पहुंचे थे। उनका यह कदम राम मंदिर निर्माण के लिए मोदी सरकार पर राजनीतिक दबाव के तौर पर देखा जा रहा है। उद्धव ठाकरे लोकसभा चुनाव से पहले अपने परिवार के साथ अयोध्या पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने राम मंदिर निर्माण को लेकर मोदी सरकार को कठघरे में खड़ा किया था। अब चुनाव के बाद फिर से वह अपने 18 सांसदों के साथ अयोध्या के दौरे पर हैं। चुनाव से पहले अयोध्या में उद्धव ठाकरे कहा था, राम हमारे लिए राजनीति का विषय नहीं हैं। राम के नाम पर शिवसेना कभी वोट नहीं मांगेगी। 

उद्धव ठाकरे से अयोध्या दौरे के एक दिन पहले शनिवार को शिवसेना के संजय राउत ने कहा था, आम चुनाव में हमें बहुमत मिला है, उसमें रामलला और राम मंदिर का निर्माण कार्य भी शामिल है। राउत ने ये भी कहा था कि, अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कार्य जल्द ही योगी जी और मोदी जी के नेतृत्व में शुरू होगा।

कमेंट करें
WYmKq