comScore
Dainik Bhaskar Hindi

श्रीरामचरित मानस,  इन्हें पढ़ने से दूर होंगी आपकी परेशानियां...

BhaskarHindi.com | Last Modified - December 22nd, 2017 07:19 IST

2.3k
0
0

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। श्रीरामचरित मानस का पाठ पढ़ना अति शुभ व फलदायी बताया गया है। विद्वान इसे नियमित पढ़ने की सलाह देते हैं। ऐसा माना जाता है कि इससे जीवन की सभी मुश्किलों और परेशानियों का अंत होता है। श्रीरामचरितमानस में अलग-अलग चैपाईयां हैं जो आपकी विभिन्न मनोकामनाएं पूर्ण करने में सहायक हो सकती हैं। इन्हें नियमित 108 बार पढ़न चाहिए। इससे श्रीराम की कृपा प्राप्त होती है। यहां हम आपको कुछ ऐसी ही चैपाईयां बताने जा रहे हैं...
 


1. जे सकाम नर सुनहि जे गावहि।
सुख संपति नाना विधि पावहि ।।

धन संपत्ति प्राप्त करना अब हर कोई चाहता है, यदि आपकी भी ऐसी ही कामना है तो ऐसे में आप इसे पढ़ सकते हैं। 

2. जेहि पर कृपा करहिं जन जानि।
कवि उर अजिर नचावहिं वानी॥
मोरि सुधारहिं सो सब भांति।
जासु कृपा नहिं कृपा अघाति

ऐसे अनेक उदाहरण मिलते हैं जो पाठशाला नही गए और ना ही किसी गुरुकुल में उन्होंने वेदों का ज्ञान अर्जित किया, किंतु उनके रचित दोहा, चैपाई, ग्रंथ आज विद्वानों द्वारा पढ़े जाते हैं। अतः विद्या के लिए आप इसे पढ़ सकते हैं। इससे आपको पढ़ाई में अवश्य ही सफलता मिलेगी। 

3. बिस्व भरण पोषन कर जोई।

ताकर नाम भरत जस होइ ।।

शिक्षा प्राप्त करने के बाद जीवन की सबसे बड़ी जरूरत होती है नौकरी, जिसे पाना भी सभी के लिए संभव नही। अतः इसे पढ़ना आपके लिए लाभकारी होगा।

4. तब जनक पाइ वशिष्ठ आयसु ब्याह साजि संवारि कै।
मांडवी श्रुतकीरति उर्मिला, कुँअरि लई हँकारि कै॥

वेद, पुराणों में विवाह को एक पवित्र संस्कार माना गया है, जिनके भी विवाह में बाधा आ रही है उन्हें इसे पढ़ना चाहिए। 

5. स्याम गौर सुंदर दोउ जोरी।

निरखहिं छबि जननीं तृन तोरी।।
 
यदि किसी को नजर लग गई है तो आप इसे पढ़ सकते हैं। माना जाता है कि इससे पीड़ित को जल्दी ही राहत मिलती है। 

6. सुमिरि पवनसुत पावन नामू।

अपनें बस करि राखे रामू।।

इससे बजरंगबली की कृपा प्राप्त होती है। भगवान राम का जहां भी स्मरण होता है जो भी व्यक्ति राम का भक्त होता है बजरंगबली उसकी प्रार्थना जल्दी ही सुन लेते हैं। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर