comScore

परीक्षा देकर आया और फंदे पर झूल गया छठवीं का छात्र

March 10th, 2019 12:31 IST
परीक्षा देकर आया और फंदे पर झूल गया छठवीं का छात्र

डिजिटल डेस्क,सतना। कक्षा छठवीं में पढने वाले 11 वर्ष के एक छात्र ने फंदे पर झूलकर मौत को गले लगा लिया। मामला मप्र के मैहर थाना अंतर्गत आने वाले धतुरा गांव का है। छात्र परीक्षा देकर आया और फांसी के फंदे पर झूल गया। बालक जिस समय यह कदम उठाय, उस दौरान घर पर कोई नहीं थी। बच्चे ने यह कदम क्यों उठाया, यह किसी को समझ नहीं आया है।
घर पर नहीं थे माता-पिता-
मैहर थाना क्षेत्र के धतुरा गांव में शनिवार की दोपहर 11 वर्ष के छठवीं कक्षा के एक छात्र साहिल पटेल ने अपने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस को फिलहाल आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है। बताया गया है कि साहिल की परीक्षाएं चल रही हैं। घर में परीक्षा देने की बात कह कर वो सुबह 9 बजे स्कूल के लिए निकला और दोपहर साढ़े 12 बजे जिस वक्त घर लौटा उस वक्त घर में पिता विनोद पटेल और मां नहीं थी।
दरवाजा तोड़कर निकला बच्चे का शव-
पुलिस के मुताबिक साहिल कच्चे घर के अंदर गया और दरवाजा अंदर से बंद कर लिया। उसने अपनी मां की साड़ी से फंदा बनाया और फांसी पर झूल गया। लगभग 15 मिनट बाद जब उसकी मां घर पहुंची तो कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था। खिड़की से झांक कर देखा तो पता चला कि साहिल फांसी पर झूल रहा है। उनकी चीख पुकार सुनकर पड़ोसी इकट्टे हुए और दरवाजा तोड़कर साहिल को बाहर निकाला।
घटना के बाद से गांव में शोक-
बच्चे द्वारा उठाए गए आत्मघाती कदम के कारण गांव में शोक का महौल है। लोगों का कहना है कि साहिल पढने में होशियार था। माता-पिता का लाडला था। इसके  साथ ही क्षेत्र के लोग भी उससे स्नेह करते थे। सभी के साथ वह अच्छे से बात करता था। बच्चे के उठाए गए इस कदम से सभी आश्चर्य चकित हैं।

कमेंट करें
S9o0K