comScore

इनके नाम पर चर्चा, CM इन वेटिंग को लेकर सोशल मीडिया वाॅर

July 27th, 2017 15:36 IST
इनके नाम पर चर्चा, CM इन वेटिंग को लेकर सोशल मीडिया वाॅर

टीम डिजिटल, भोपाल. सीएम इन वेटिंग को लेकर सोशल मीडिया वाॅर शुरु हो गया. मध्यप्रदेश में किसान आंदोलन से इतर एक बार फिर सीएम इन वेटिंग की चर्चाएं जोर पकड़ने लगी हैं. कुछ दिनों पहले जो नेता आंदोलन और किसानों को न्याय दिलाने की बात कर रहे थे अब वे एक बार फिर राजनीति के पन्ने पलटने लगे हैं. इस बार के चुनाव शिवराज सिंह के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकते हैं. किसान आंदोलन और किसानों की नाराजगी का खामियाजा उन्हें चुनाव में भुगतना पड़ सकता है...

छिंदवाड़ा के नवाब के नाम से फेमस कमलनाथ को सीएम इन वेटिंग माना जा रहा है. माना जा रहा है कि मप्र में शिवराज को टक्कर देने के लिए उनसे अच्छा फेस नही हो सकता. छिंदवाड़ा कमलनाथ का गढ़ कहा जाता है. इस सीट से अब तक हुए चुनावों में कमलनाथ को कोई भी नहीं हरा सका. वहीं पार्टी में उनकी सीनियर्टी और वर्चस्व को देखते हुए भी उनके नाम पर जोर दिया जा रहा है. कमलनाथ का नाम आने से पार्टी को इसका फायदा मिल सकता है. 

वहीं सोशल मीडिया पर ज्योतिरादित्य के नाम पर भी चर्चाएं जारी है. सिंधिया के समर्थक भी इस बात पर जोर दे रहे हैं कि इस बार उन्हें मप्र में कांग्रेस का सीएम पद का चेहरा घोषित किया जाए. करीब एक माह पहले राहुल जब ग्वालियर से होते हुए निकले तो एयरपोर्ट पर इस बात को लेकर दोनों के बीच चर्चा भी हुई थी, हालांकि राहुल ने कोई जवाब नहीं दिया था.  

सिंधिया के पक्ष में लाॅबिंग
मप्र में मुख्यमंत्री पद की दौड़ में शामिल कमलनाथ के करीबी उनके नाम पर जोर दे रहे हैं. अब खबर यह भी कि मप्र कांग्रेस के कई बड़े नेता सिंधिया को दौड़ से बाहर रखने के लिए दिल्ली में डेरा डालकर कमलनाथ के पक्ष में लॉबिंग करने में लग गए हैं. अब यह देखना ये है कि कमलनाथ और सिंधिया में से किसका कद ज्यादा बढ़ेगा. 

मोदी भी नहीं खुश
फिलहाल प्रेसीडेंट इलेक्शन को लेकर दोनों ही दिग्गज पार्टियों में माहौल गर्माया है. ऐसे में सीएम शिवराज सिंह भी दिल्ली पहुंच गए. खा जा रहा है कि मोदी भी शिवराज के काम से इस बार खासे खुश नहीं हैं, किसान आंदोलन ने भी उन्हें नाराज किया है. ऐसे में इस बार के चुनाव में पार्टी सीएम का फेस बदल भी सकती है. 

कमेंट करें
L9Vox