comScore

वर्ल्ड बॉक्सिंग चैम्पिनयशिप : सोनिया फाइनल में, भारत का चौथा मेडल पक्का

November 24th, 2018 15:16 IST

हाईलाइट

  • सोनिया चहल ने 10वीं AIBA वर्ल्ड महिला बॉक्सिंग चैम्पिनयशिप में इतिहास रच दिया है।
  • सोनिया ने सेमीफाइनल मुकाबले में नॉर्थ कोरिया की सन ह्वा जो को हरा दिया।
  • सोनिया मैरीकॉम के बाद दूसरी बॉक्सर हैं जिसने फाइनल में जगह बनाई है।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत की युवा महिला बॉक्सर सोनिया चहल ने दिल्ली में खेले जा रहे 10वीं AIBA वर्ल्ड महिला बॉक्सिंग चैम्पिनयशिप में इतिहास रच दिया है। अपना पहला वर्ल्ड चैंपियनशिप खेल रही सोनिया ने सेमीफाइनल मुकाबले में नॉर्थ कोरिया की सन ह्वा जो को हरा दिया। सोनिया ने 57kg कैटगरी में यह जीत हासिल की। वह मैरीकॉम के बाद दूसरी बॉक्सर हैं जिसने फाइनल में जगह बनाई है और सिल्वर पक्का कर लिया है। वहीं भारत का यह चौथा मेडल होगा।

सोनिया ने अपने कोरियन प्रतिद्वंदी के खिलाफ बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया। मैच के बाद सोनिया ने कहा, मैं नहीं जानती मैं कैसे फाइनल तक पहुंच गई। मैं बहुत खुश हूं कि मैंने यह कारनामा काफी कम उम्र में कर दिखाया है। फाइनल मैच काफी कठिन होगा, पर मैं उसे भी जीतने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा दूंगी। सोनिया ने शुक्रवार को खेले गए इस मैच में डिफेंसिव खेल दिखाया।   

पहले राउंड में उन्होंने कोरियन खिलाड़ी पर एक भी पंच लैंड नहीं किया। वहीं दूसरे राउंड में कोरियन खिलाड़ी ने काउंटर अटैक करना शुरू किया, लेकिन सोनिया ने इसमें भी डिफेंसिव एप्रोच दिखाया। इससे कोरियन खिलाड़ी बौखला गई और उनके पंच गलत जगहों पर लैंड होने लगे। सोनिया ने चतुराई दिखाते हुए रिंग का भरपूर इस्तेमाल किया। 

तीसरे राउंड में सोनिया ने बेहतरीन खेल दिखाया और अपने दाहिने हाथ से कोरियन खिलाड़ी पर पंच की बौछार कर दी। हालांकि मैच के अंतिम छणों में सोनिया की कुछ गलतियों की वजह से कोरियन खिलाड़ी को वापसी का मौका भी मिला और उसने मौके का भरपूर फायदा भी उठाया। इस वजह से रेफरी के लिए विजेता घोषित करना मुश्किल हो गया। हालांकि अंत में निर्णय सोनिया के पक्ष में रहा।  

सोनिया ने इसी के साथ सिल्वर मेडल पक्का कर लिया है। वह इस साल चैंपियनशिप में भारत के लिए पदक जीतने वाली चौथी खिलाड़ी हैं। इससे पहले सिमरनजीत कौर और लोवलिना बोर्गोहेन ने भारत के लिए ब्रॉन्ज मेडल जीता है। वहीं दिग्गज महिला बॉक्सर मैरीकॉम भी फाइनल में पहुंच चुकी हैं। मैरीकॉम यदि अपना फाइनल मुकाबला जीतीं तो छठी बार वर्ल्‍ड चैंपियन बनने के कारनामे को अंजाम देंगी।


 

कमेंट करें
RmhE0