comScore

मैनपुरी के सपा नेता की हत्या, आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर मिला शव

December 29th, 2017 13:25 IST
मैनपुरी के सपा नेता की हत्या, आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर मिला शव

डिजिटल डेस्क, फीरोजाबाद। गुरुवार को सपा नेता सुखराम सिंह यादव की फीरोजाबाद में हत्या कर दी गई। बदमाश हत्या करने के बाद उनकी लाश को स्कॉर्पियो गाड़ी समेत आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे के पास छोड़कर फरार हो गए। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मृतक सपा नेता की पत्नी कुसमा देवी ने सुखराम सिंह की हत्या के लिए एक महिला समेत पांच के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है।

घटना की जांच शुरू

परिजनों के मुताबिक सुखराम सिंह यादव के पास 20 लाख रुपए भी थे, जिनका कोई पता नहीं चल रहा है। मैनपुरी के कुर्रा इलाके के नगला दूंदे के रहने वाले सुखराम सिंह यादव अखिलेश सरकार में खादी ग्रामोद्योग बोर्ड का सदस्य थे। इन दिनों वे लखनऊ के कृष्णानगर इलाके में रहकर विद्युत विभाग में ठेकेदारी करते थे। मृतक सपा नेता सुखराम के बेटे का कहना है कि जिस वक्त पापा घर से निकले थे, उनके पास 20 लाख रुपए भी थे। फिलहाल पुलिस ने घटना की जांच शुरू कर दी है।

पत्नी ने गांव के लोगों पर लगाया आरोप

परिजनों के मुताबिक वे मंगलवार को मैनपुरी से स्कार्पियो संख्या यूपी 84 के- 8889 से निकले थे। बुधवार शाम फोन पर पत्‍‌नी से सुबह आने को कहा था। इसके बाद उनका कोई संपर्क नहीं हुआ। इधर, बुधवार रात पुलिस को एक्सप्रेस वे से सटे सुजनीपुर गांव के पास गड्ढे में स्कार्पियो पलटी होने की सूचना मिली। जिसके बाद पुलिस ने शिनाख्त की तो पता चला कि मृतक नेता सुखराम यादव हैं। सपा नेता की पत्नी कुसमा ने इस संबंध में गांव के राजकिशोर, जितेंद्र, सुनील पुत्रगण रामविलास, गुड्डी देवी पत्नी राजकिशोर व राम विलास पुत्र रामेश्वर सभी निवासी नगला दूंदे पर कारोबारी रंजिश के चलते हत्या करने का आरोप लगाया है। प्रभारी एसओ शिवकांत वर्मा ने बताया कि तहरीर पर मामला दर्ज कर लिया है।

पुलिस का कहना है कि हत्या के पीछे कारोबारी रंजिश लगती है, आरोपी राजकिशोर मृतक सुखराम सिंह यादव का सरकारी ठेकेदारी में हिस्सेदार था, लेकिन लगभग डेढ़ वर्ष पहले सुखराम सिंह यादव ने राजकिशोर को अलग कर दिया गया था। 

कमेंट करें
Wc1HT