comScore
Dainik Bhaskar Hindi

भारत को प्लेइंग और परफार्मिंग राष्ट्र बनाने में मददगार होगा क्रीड़ा महोत्सव : सचिन

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 13th, 2019 18:00 IST

1.2k
0
0
भारत को प्लेइंग और परफार्मिंग राष्ट्र बनाने में मददगार होगा क्रीड़ा महोत्सव : सचिन

डिजिटल डेस्क, नागपुर। खासदार क्रीड़ा महोत्सव द्वितीय के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंडुलकर ने कहा कि भारत की पहचान एक "स्पोर्ट्स लविंग नेशन' के रूप में होती है, लेकिन मैं चाहता कि आने वाले दिनों इसकी ख्याति "प्लेइंग और परफार्मिंग नेशन' के रूप में बढ़े और इस प्रकार की सोच को खासदार क्रीड़ा महोत्सव जैसे आयोजन के साथ बल मिलेगा। मुझे खुशी है, नागपुर में आयोजित इस क्रीड़ा महाेत्सव में 40 हजार खिलाड़ी विभिन्न खेलों में अपनी चुनौती पेश कर रहे हैं। धंतोली स्थित यशवंत स्टेडियम में आयोजित समारोह में भारतरत्न सचिन तेंडुलकर ने युवाओं से खेल भावना के साथ क्रीड़ा महोत्सव में शामिल होने की अपील की। उन्होंने कहा कि खेल के मैदान पर व्यक्तित्व का विकास होता है। अगर आपने खेल भावना का परिचय नहीं दिया, तब नुकसान आप लोगों का ही होगा। उन्होंने कहा कि मैंने मैदान पर हमेशा इस भावना के साथ उतरने की कोशिश की है। सचिन ने खासदार क्रीड़ा महोत्सव की तारीफ करते हुए कहा कि इस प्रकार का आयोजन देश भर में होना चाहिए, इससे युवाओं को अवसर मिलता है।

मैदान पर पसीना बहाना जरूरी
सचिन ने कहा कि एक अध्ययन के अनुसार वर्ष 2012 से 2030 के दौरान भारत 6000 ट्रिलियन डॉलर हेल्थ और मेडिकल पर खर्च कर सकता है, लेकिन हम मैदान पर पसीना बहाते हुए काफी रुपए बचा सकते हैं। यह हम सभी के हाथ में है। सचिन ने इस अवसर पर विदर्भ रणजी टीम के चैंपियन बनने पर सभी शुभकामनाएं दी। 

दुनिया में कुछ भी असंभव नहीं
सचिन ने कहा कि मेंटली और फिजिकली चैलेंज बच्चों के कारनामों को देखते हुए मुझे लगता है कि दुनिया में प्रबल इच्छाशक्ति के बल पर कुछ भी हासिल किया जा सकता है। उन्हाेंने कहा कि मैंने एक बार आंखों में पट्टी बांधकर क्रिकेट खेलने की कोशिश की, लेकिन मुझसे नहीं हो पाया। पर आज आंखों से नहीं देख पाने वाले भी क्रिकेट खेल रहे हैं।

खासदार क्रीड़ा महोत्सव द्वितीय के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए तेंडुलकर ने व्यक्त किए विचार, खेल भावनाओं के साथ युवाओं को भाग लेने को कहा केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितीन गडकरी ने कहा कि सचिन की महानता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि डॉन ब्रेडमैन ने सचिन को उनसे भी बेहतर खिलाड़ी बता चुके हैं। लेकिन आज की प्रतिस्पर्धा के दौर में अवसर की कमी के कारण प्रतिभाएं सामने नहीं आ पा रही हैं। खासदार क्रीड़ा महोत्सव एक ऐसा मंच में जहां युवाओं को अपनी प्रतिभा दिखाने का पूरा अवसर मिलता है। मुझे पूरा विश्वास है कि आने वाले दिनों में हमे इस क्रीड़ा महोत्सव के माध्यम से कई ऐसे खिलाड़ी मिलेंगे, जो देश का नाम रोशन करेंगे।

विवेकानंद के बताए मार्ग पर चलने की जरूरत : फडणवीस
राज्य के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने क्रीड़ा महोत्सव में भाग ले रहे खिलाड़ियों को बेहतर प्रदर्शन की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आज स्वामी विवेकानंद की जयंती के अवसर पर इस खेल महाकुंभ का आगाज हो रहा है। उन्होंने कहा कि फुटबॉल खेलने से युवाओं का चौमुखी विकास होता है। समारोह में नागपुर के पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले, महापौर नंदा जिचकार, सांसद डॉ. विकास महात्मे, पूर्व सांसद दत्ता मेघे, अजय संचेती, विधायक सुधाकरराव देशमुख, सुधाकरराव कोहले, कृष्णा खोपड़े, विकास कुंभारे, क्रीड़ा संयोजक संदीप जोशी आदि उपस्थित थे।
 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download