comScore
Dainik Bhaskar Hindi

जमीन बेचकर SSC की तैयारी कर रहे छात्र, रो-रो कर Video में बताई आपबीती

BhaskarHindi.com | Last Modified - March 11th, 2018 00:31 IST

5.1k
0
0

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। सरकारी नौकरी की आस में कई छात्र अपना घर-बार छोड़, जमीन बेचकर कड़ी मेहनत कर रहे हैं। मगर देश में बढ़ रहे भ्रष्टाचार ने उनके इस सपने को मानों अजगर की तरह निगल लिया है। कुछ ऐसे ही भारत की राजधानी दिल्ली में SSC पेपर लीक के खिलाफ पिछले नौ दिनों से प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने अपना कष्ट साझा किया है। इन्हीं में से एक छात्र का बड़ा ही कष्टदायक वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में यह छात्र अपनी आपबीती बताते हुए सिसक-सिसक कर रोने लगता है।

वीडियो में अपनी आपबीती बता रहे छात्र ने कहा कि वह बिहार के मधेपुरा से ताल्लुक रखता है। छात्र ने कहा है कि उनके पिता ने सारी जमीन लीज पर दे दी है। छात्र अपनी कहानी बताते-बताते रोने लगता है। छात्र का कहना है कि कम पैसा होने की वजह से उसे दिल्ली में काफी तकलीफ में जिंदगी गुजारनी पड़ती है।

अपनी आर्थिक स्थिति पर बात करते हुए छात्र ने कहा कि मेस की 40 रुपए की थाली महंगी पड़ती है तो कई बार भूखे रह जाते हैं, कई बार चना खाकर गुजारा करते हैं। SSC पेपर लीक होने के मामले पर छात्र का कहना है कि सिस्टम में इस तरह की गड़बड़ी देखकर उसे लगता नहीं है कि उसका सेलेक्शन हो पाएगा।

बिहार के इस छात्र ने विरोध में अपना सर मुंडवा लिया है। उसने वीडियो में कहा कि वह सिर मुंडवाकर विरोध प्रदर्शन कर रहा था, मगर इसी दौरान पुलिस ने नाई को गिरफ्तार कर लिया और सिर आधा ही मुंड सका। छात्र ने बताया कि वह 9 दिन से सड़क पर है। उसकी इच्छा थी कि तैयारी के बाद घर चला जाए। लेकिन अब छात्र का कहना है कि वैसे भी मरना है, अब चाहे डंडा खाए या कुछ और हो जबतक उनकी मांगे पूरी नहीं हो जाती वे लोग यहां से उठने वाले नहीं है।

छात्र ने वीडियो में अपना परिचय देते हुए कहा कि वह बिहार के मधेपुरा का रहने वाला है। उसके पिता किसान हैं और एक हादसे में उनकी रीढ़ की हड्डी टूट गई। अब वह कुछ भी काम करने लायक नहीं हैं। पिता का हमेशा बीपी लॉ भी रहता है, साथ ही मेरी मां भी बीमार रहती हैं। उन्होंने मुझे जमीन बेचकर यहां पढ़ने के लिए भेजा है।

बता दें कि केन्द्र सरकार ने एसएससी पेपर लीक मामले में सीबीआई जांच की मांग मान ली है और छात्रों को घर जाने को कहा है। लेकिन छात्र इस आश्वासन से संतुष्ट नहीं हैं।

छात्रों का कहना है कि एसएससी सीबीआई जांच के आदेश को दिखाने में आना-कानी कर रही है। छात्रों का कहना है कि उनकी मांग सिर्फ दो परीक्षाओं तक सीमित नहीं है। वे लोग 2017 और 18 में हुई सभी परीक्षाओं की जांच की मांग कर रहे हैं।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download