comScore

सूअर का मांस खाकर जीता त्रिपुरा के लोगों का दिल : सुनिल देवधर

March 07th, 2018 23:59 IST
सूअर का मांस खाकर जीता त्रिपुरा के लोगों का दिल : सुनिल देवधर

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। त्रिपुरा में BJP की पहली बार सरकार बनने जा रही है। राज्य में BJP को पहली बार इतने प्रतिशत में मत प्राप्त हुए हैं। प्रधानमंत्री ने BJP की इस जीत को ऐतिहासिक और वैचारिक जीत भी करार दिया है। BJP की इस धमाकेदार जीत के पीछे जिस एक शख्स का नाम सबसे अधिक चर्चा में आ रहा है वो हैं राज्य के BJP प्रभारी सुनील देवधर। महारष्ट्र में जन्मे देवधर पिछले पांच वर्षों से त्रिपुरा में विरोधियों का किला ढहाने के लिए जाल बिछा रहे थे। देवधर की सूझबूझ और सधी हुई राजनीतिक चालों के बदौलत ही BJP 25 सालों से सत्ता में काबिज वामपंथी पार्टी के वर्चस्व को भंग करने में कामयाब हो पाई।

तेलंगाना चुनावों की कमान सौंपने की चल रही है तैयारी 
त्रिपुरा में BJP की धमाकेदार जीत के बाद अब BJP नेतृत्व का ध्यान तेलंगाना और कर्णाटक की तरफ घूम चुका है।अब देवधर को तेलंगना में होने वाले विधानसभा के चुनावों की कमान सौंपने की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। त्रिपुरा की जीत पर एक हिंदी न्यूज़ चैनल से बात चीत के दौरान देवधर ने खुलासा किया है कि राज्य में संगठन को मजबूत स्थिति में लाने के लिए उन्होंने खुद पर भी काफी काम किया है। सुनील देवधर ने कहा कि इसके कारण उन्हें लोगों के दिल में स्थान बनाने और अपनत्व दिखाने के लिए उन्होंने कई बार पोर्क यानी कि सूअर का मांस भी खाया है।

बोले त्रिपुरा के वर्तमान BJP संगठन में 90% कार्यकर्त्ता कांग्रेसी 
BJP के शानदार प्रदर्शन पर चर्चा करते हुए सुनील ने बताया कि हमने यह कारनामा कांग्रेस के ही कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर कर डाला जो कि कांग्रेस नहीं कर पाई। सुनील ने बाते कि त्रिपुरा का वर्तमान BJP संगठन 90% कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बदौलत ही बन पाया है। बता दें कि BJP अध्यक्ष अमित शाह ने 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान सुनील देवधर को वाराणसी भी भेजा था। 2013 के त्रिपुरा विधानसभा चुनाव में BJP को महज डेढ़ फीसद वोट मिले थे जबकि इस बार 43 फीसद। BJP की तरफ से बिप्लब देब को मुख्यमंत्री बनाने का ऐलान किया है।

कमेंट करें
mf2YN