comScore
Dainik Bhaskar Hindi

दीक्षांत समारोह में स्टूडेंट्स कैप और गाउन नहीं बल्कि स्लैस पहनेंगे, VNIT का निर्णय

BhaskarHindi.com | Last Modified - September 14th, 2018 12:57 IST

4k
0
0
दीक्षांत समारोह में स्टूडेंट्स कैप और गाउन नहीं बल्कि स्लैस पहनेंगे, VNIT का निर्णय

डिजिटल डेस्क, नागपुर। मानव संसाधन विकास मंत्रालय की पहल ने वर्ष 2017 में एक बहस को जन्म दिया था, जिसमें मंत्रालय ने उच्च शिक्षा संस्थानों में दीक्षांत समारोह के कैप और गाऊन पहनने की प्रथा बंद करने की तैयारी की थी। शहर का विश्वेश्वरैया राष्ट्रीय प्राैद्यौगिकी संस्थान इस वर्ष अपने यहां ऐसा ही प्रयोग करने जा रहा है। शनिवार को संस्थान का 16वां दीक्षांत समारोह है। संस्थान प्रबंधन ने इस वर्ष निर्णय लिया है कि विद्यार्थी दीक्षांत समारोह में कैप और गाउन पहनने से परहेज करेंगे।

तर्क है कि कैप और गाउन ब्रिटिश कालीन पद्धति का सूूचक है, इसलिए संस्थान ने इस वर्ष से यह प्रथा बंद करने का निर्णय लिया है। वीएनआईटी की सीनेट से इस फैसले को मंजूरी मिलने के बाद इसे लागू किया गया है। संस्थान ने छात्रों को फॉर्मल शर्ट-पैंट और छात्राओं से सलवार-कुर्ती पहन कर समारोह में पहुंचने को कहा है। ड्रेस पर विद्यार्थी वीएनआईटी द्वारा तैयार करवाया गया स्लैस पहनेंगे। 

नागपुर में पहला प्रयोग
वीएनआईटी बोर्ड ऑफ गवर्नर अध्यक्ष विश्राम जामदार की मानें तो संस्थान ने बीती बैच के 600 से भी अधिक विद्यार्थियों से संपर्क कर कैप और गाउन पहनने की प्रथा बंद करने पर उनकी राय मंगाई थी, जिसके बाद संस्थान ने यह निर्णय लिया है। उल्लेखनीय है कि वर्ष 2015 में आईआईटी वाराणसी और कोची की मलयालम यूनिवर्सिटी ने अपने यहां इस तरह का फैसला लिया है। एनआईटी संस्थानों में खासकर नागपुर के किसी भी शैक्षणिक संस्थान में यह अपने तरह का पहला प्रयोग माना जा रहा है।

240 के कैंपस प्लेसमेंट का दावा
इन दिनों इंजीनियरिंग के विद्यार्थियों को कैंपस प्लेसमेंट दिला पाना इंजीनियरिंग कॉलेजों के लिए टेढ़ी खीर साबित हो रहा है। जबकि वीएनआईटी का दावा है कि संस्थान के अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रम के 240 विद्यार्थियों को कैंपस प्लेसमेंट मिला है। एक विद्यार्थी को तो गोल्डमैन सैश कंपनी ने 33.50 लाख रुपए का पैकेज दिया है। अन्य कई विद्यार्थियों ने स्टार्टअप शुरू किया है। संस्थान के बीते पांच वर्षों के रिकॉर्ड पर नजर डालें तो करीब 70 फीसदी विद्यार्थियों को कैंपस प्लेसमेंट मिला है। वर्ष 2017 में संस्थान के 2757  में से 1957 विद्यार्थियों को प्लेसमेंट मिला था। 

शनिवार को होगा समारोह
शनिवार को सर एम. विश्वेश्वरैया के जन्मदिन पर समारोह का आयोजन होगा। संस्थान के सभागृह में कार्यक्रम सुबह 10 बजे शुरू होगा। समारोह में टाटा कैमिकल्स के एमडी और सीईओ रामकृष्णन मुकुंदन बतौर मुख्य अतिथि शामिल होंगे। वीएनआईटी अध्यक्ष विश्राम जामदार अध्यक्षता करेंगे। दीक्षांत समारोह में वीएनआईटी द्वारा 77 पीएचडी की डिग्रियां प्रदान की जाएंगी। संस्थान द्वारा किसी भी दीक्षांत समारोह में दी गई यह सर्वाधिक पीएचडी डिग्रियां होंगी। पूर्व में अधिकतम 62 पीएचडी डिग्रियां प्रदान की गई थीं। इसके अलावा 307 एम.टेक, 55 एम.एससी, 57 बैचलर ऑफ आर्किटेक्चर और 672 बी. टेक डिग्रियां दी जाएंगी। गुरुवार को आयोजित पत्रकार परिषद में विश्राम जामदार, डायरेक्टर प्रमोद पडोले, रजिस्ट्रार शैलेश साठे उपस्थित थे। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर