comScore

रेल विद्युतीकरण में सबस्टेशन भी बन रहा रोड़ा

April 26th, 2018 16:32 IST
रेल विद्युतीकरण में सबस्टेशन भी बन रहा रोड़ा

डिजिटल डेस्क,  सिंगरौली (मोरवा)। पूमरे ने अपने क्षेत्र में इलेक्ट्रिक इंजन दौड़ाने के लिए कोशिशें तेज कर दी हैं, इसके लिए  चोपन और कटनी की तरफ से विद्युतीकरण के लिए सबस्टेशन का निर्माण शुरू कर दिया गया है। सिंगरौली में शुक्लामोड़ के पास स्थित अंडरब्रिज से पहले वैढऩ मार्ग और रेलवे लाइन के बीच 132 केवी सबस्टेशन बनाने का काम शुरू हुए एक वर्ष से अधिक समय हो गया है बीते दिवस इस कार्य के लिए रेलवे के इलेक्ट्रिीफिकेशन विभाग ने एक निजी कम्पनी को काम पर लगा दिया है। बावजूद सबस्टेशन निर्माण की प्रगति अत्यंत धीमी है। साइट पर नजर डालें तो दिख रहे हालात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि  एक वर्ष तक भी सबस्टेशन बन कर तैयार नहीं हो  पाएगा। 

रेल सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पूमरे ने चोपन से सिंगरौली की ओर कई अन्य स्टेशनों पर भी सब स्टेशन बनाना शुरू कर दिया है। इन सभी स्थानों पर एक साथ कार्य किया जा रहा है इसके साथ ही बिल्ली से सिंगरौली की ओर इलेक्ट्रिक पोल लगाने का कार्य भी जारी है। तेजी के साथ शुरू हुए विद्युतकरण के  कार्य के लिए इससे पहले सिंगरौली में ओएचई डिपो बनाया जाना है लेकिन फिलवक्त उसका कार्य रूका हुआ है। रेल सूत्र बताते हैं कि सब स्टेशन की क्षमता 132के वी होगी जिसके लिए मोरवा के एमपीइबी से कनेक्शन लिया जाएगा। जिसे 132/25 में परिवर्तित कर रेलवे इंजिन के मुताबिक 25हजार वोल्ट का सिंगल फेस ट्रांसफार्मर लगा कर रेलवे में सप्लाई किया जाएगा। इसके लिए पहले से तैयारियां की जा चुकी हैं जो कि चोपन की ओर से आ रही लाइन में जोड़ा जाएगा। 

लंबित है परमिशन की प्रक्रिया 
बताया जा रहा है कि रेलवे के एचटी कनेक्शन के लिए एमपीइबी के सीधी स्थित सुपरिटेण्डिंग इंजीनियर कार्यालय में प्रक्रिया जारी है बीते दो वर्ष में एक बार रेलवे निर्धारित राशि समय पर जमा न कर पाने के कारण चूक गया था जिससे पेनाल्टी की स्थिति उत्पन्न हो गई थी। जिसके बाद एक बार पुन: पमरे के द्वारा कनेक्शन को लेकर दौड़ धूप की गई थी। सबस्टेशन के निर्माण में देरी की वजह से विद्युत् कनेक्शन लेने में भी देरी की जा रही है। 

कोलयार्ड की धूल से पट जाएगा सब स्टेशन 
सब स्टेशन के निर्माण की शुरूआत के दौरान वहां पर दूर दूर तक कोई निर्माण नही किया गया था। लेकिन फिलहाल में ही आनन फानन नई रेलवे लाइन बिछा कर ठीक बगल में कोल यार्ड के लिए स्पर-3लाइन शुरू कर दी गई है। जो सबस्टेशन के लिए मुश्किलें खड़ा करने वाला होगा। लेकिन रेल अधिकारियों को कार्यो का निरीक्षण करने का समय भी नही रहता जिसके कारण वे इस लाइन के निर्माण के पहले रोक नही लगा सके है। फिलहाल एक वर्ष से सब स्टेशन की स्थित जस की तस बनी हुई है। जिससे सिंगरौली में इलेक्ट्रिफिकेशन का कार्य अत्यंत धीमा नजर आ रहा है। 

कमेंट करें
lxG7Z