comScore
Dainik Bhaskar Hindi

पाकिस्तान: चुनावी रैली में सुसाइड ब्लास्ट, 14 की मौत, 50 से अधिक घायल

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 11th, 2018 14:48 IST

6.9k
0
0

News Highlights

  • पाकिस्तान के पेशावर में एक चुनावी रैली में आत्मघाती हमला।
  • ANP उम्मीदवार हारुन अहमद बिलौर सहित 14 की मौत।
  • हमले में 50 से अधिक लोग घायल हुए हैं।
  • पाकिस्तान में 25 जुलाई को चुनाव हैं।


डिजिटल डेस्क, पेशावर। पाकिस्तान में आतंकी अब चुनावी रैलियों को निशाना बना रहे हैं। मंगलवार रात को पेशावर में एक चुनावी रैली के दौरान आत्मघाती हमला हुआ, जिसमें अवामी नेशनल पार्टी (ANP) के उम्मीदवार सहित 14 लोगों की मौत हो गई। जबकि 50 से अधिक लोग घायल हुए हैं। 

जानकारी के मुताबिक मंगलवार को अवामी नेशनल पार्टी की तरफ से पेशावर के याकातूत इलाके में चुनावी रैली आयोजित की गई थी। प्रांतीय सीट से ANP उम्मीदवार हारुन अहमद बिलौर चुनावी सभा को संबोधित करने जा रहे थे, तभी आत्मघाती हमलावर ने खुद को बम से उड़ा लिया। ये भी कहा जा रहा है कि धमाके में बिल्लौर गंभीर रूप से घायल हुए थे, लेकिन इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।


हालांकि अभी तक किसी भी आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। जबकि पुलिस का भी यही कहना है कि ये एक आत्मघाती हमला था। हमले में हारुन बिलौर को निशाना बनाया गया। फिलहाल राहत और बचाव टीम मौके पर मौजूद है और घटना की जांच भी शुरू कर दी गई है। वहीं घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पेशावर खैबर पख्तूनवा प्रांत में पड़ता है और यहां अवामी नेशनल पार्टी की सरकार है। वहीं पाकिस्तान में 25 जुलाई को चुनाव भी होने हैं। गौरतलब है कि 2012 में हारून बिलौर के पिता बशीर बिलोर को भी किस्सा ख्वानी बाजार में आत्मघाती ब्लाल्ट में उड़ा दिया गया था। 2013 के चुनाव में भी तालिबानी हमलावरों के निशाने पर ANP ही थी।

अब हमले की निंदा भी शुरू हो गई है। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के अध्यक्ष इमरान खान ने हमले की कड़ी निंदा करते हुए राजनीतिक दलों और उनके उम्मीदवारों के लिए चुनाव प्रचार के दौरान सुरक्षा की मांग की है।

उन्होंने ट्वीट किया है, हारून बिलौर और दो अन्य एएनपी कार्यकर्ताओं की मौत से काफी दुख पहुंचा है और पेशावर में एएनपी मीटिंग के दौरान हुए आतंकी हमले की कड़ी निंदा करता हूं। सभी राजनीतिक पार्टियों और उनके नेताओं को चुनाव प्रचार के दौरान राज्य में सुरक्षा दी जानी चाहिए।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download