comScore
Dainik Bhaskar Hindi

सूर्य करेगा कन्या राशि में प्रवेश, जानिए किस राशि पर पड़ेगा क्या प्रभाव 

BhaskarHindi.com | Last Modified - September 14th, 2018 16:20 IST

20.8k
7
2
सूर्य करेगा कन्या राशि में प्रवेश, जानिए किस राशि पर पड़ेगा क्या प्रभाव 

डिजिटल डेस्क, भोपाल। सूर्य देव 17 सितंबर 2018 को रात्रि 09 बजकर 56 मिनिट पर कन्या राशि में प्रवेश कर रहे हैं और 18 अक्टूबर 2018, गुरुवार प्रातः 8 बजकर 53 मिनिट तक इसी राशि में स्थित रहेंगे। वैदिक ज्योतिष पचांग के अनुसार सूर्य देव हर माह में अपनी राशि परिवर्तन करते हैं और ये एक राशि में एक माह का समय लेते हैं। सूर्य देव का एक राशि से दूसरी राशि में प्रवेश करने को गोचर या संचरण कहा जाता है।

ज्योतिष में सूर्य को आत्मा, पिता, मान-सम्मान और शासकीय सेवा का कारक घोतक माना जाता है इसलिए सूर्य का राशि परिवर्तन या गोचर का प्रभाव अधिक हो जाता है। सूर्य के शुभ प्रभाव के कारण व्यक्ति को सरकारी और अन्य सेवाओं में बड़े पदों की प्राप्ति हो पाती है। सूर्य के इस राशि परिवर्तन का प्रभाव सभी राशियों पर होगा। आइये जानते हैं सूर्य के राशि परिवर्तन का किस राशि पर क्या प्रभाव पड़ेगा।

मेष

सूर्य आपकी राशि से षष्ठम भाव में रहेंगे। सूर्य की यह स्थिति आपके लिए सकारात्मक रहेगी। इस समय आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे। वहीं आपके साहस और बुद्धि बल के कारण शत्रु भयभीत महसूस करेंगे। प्रतियोगी परीक्षाओं में अपनी अच्छी तैयारी से सफल रहेंगे। कार्य क्षेत्र में आप अच्छा प्रदर्शन करेंगे और अधिकारी भी आपके काम से ख़ुश रहेंगे। सूर्य के इस गोचर में आपको स्वास्थ्य लाभ मिलेगा। सरकार की किसी योजना से आप लाभान्वित हो सकते हैं। पारिवारिक जीवन में भी ख़ुशियां बनी रहेंगी।

उपायः ‘ॐ ह्रां ह्रीं ह्रौं सः सूर्याय नमः!!’ मंत्र का जाप करें।

वृषभ

सूर्य आपकी राशि से पंचम भाव में रहेगा। इस समय में आप असमंजस की स्थिति में रह सकते हैं और बड़े निर्णय लेने में आपको कष्टों का सामना करना पड़ सकता है। कार्य क्षेत्र में अधिकारी के साथ आपके संबंध बिगड़ सकते हैं। प्रयास करें कि अधिकारी के साथ आपके संबंधों का बिगाड़ ना हो। समाजिक रूप से भी कुछ लोगों से आपका विवाद संभव है। संतान के स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखें। जीवनसाथी को सूर्य के अनुकूल परिणाम प्राप्त हो सकते हैं। कार्यस्थल में उन्हें सफलता मिलने के योग हैं। यात्राओं का परिणाम आपके लिए प्रतिकूल रहेगा। वैसे कुल मिलाकर सूर्य का यह परिवर्तन आपके लिए अच्छा है। 

उपायः रविवार को विष्णु जी के मंदिर में लाल रंग के कपड़े दान करें।

मिथुन

सूर्य आपकी राशि से चतुर्थ भाव में रहेगा। इस समय में आपको मानसिक तनाव तथा स्वास्थ्य में कमज़ोरी रह सकती है। मानसिक तनाव को दूर करने के लिए मनोरंजन का सहारा लिया जा सकता है। आपकी माता जी के स्वास्थ्य में कमी हो सकती है इसलिए उनकी की देखभाल ज़रुरी है। घर में परिजनों के साथ किसी बात को लेकर आपका मनमुटाव हो सकता है इसलिए ऐसे मुद्दों पर अधिक ध्यान न दें ताकि आपके घर की शांति भंग ना हो। यदि आवश्यक न हो तो यात्रा को टाल सकते हैं। और वैवाहिक जीवन में भी चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। जीवनसाथी को कार्य क्षेत्र में लाभ प्राप्त होगा।

उपायः रविवार को गेहूँ दान करें।

कर्क

सूर्य आपकी राशि से तृतीय भाव में रहेगा। यह समय स्वास्थ्य की दृष्टि से आपको सकारात्मक परिणाम देने वाला है। इस समय में भौतिक सुख सुविधाओं का आनंद ले सकते हैं। इस समय में अपने लक्ष्य के प्रति आपकी इच्छा शक्ति में वृद्धि होगी। कार्यक्षेत्र में आप सराहनीय कार्य करेंगे जिससे अधिकारी भी आपके काम से प्रसन्न होंगे। अधिकारियों से आपके सबंध अच्छे बनेंगे। समाज में भी प्रतिष्ठित लोगों के साथ आपका उठना-बैठना होगा। छोटी दूरी की यात्राएं आपके लिए लाभकारी हो सकती हैं। इसके अलावा दोस्तों और भाई-बहनों की सहायता से आपको आर्थिक लाभ मिल सकता है। आपके विरोधियों पर आपका भय बना रहेगा। समाज में भी आपका मान-सम्मान बढ़ेगा। कार्यक्षेत्र में आपकी पदोन्नति की प्रबल संभावना है। लोगों के प्रति आपका व्यवहार मधुर और सौम्य रहेगा।

उपायः ‘ॐ घृणि सूर्याय नमः!!’ मंत्र का जाप करें।

सिंह

सूर्य आपकी राशि से द्वितीय भाव में रहेगा। इस समय में आपको थोड़ा संभलकर रहना होगा। कठोर शब्दों से किसी की भावना को आहत न करें, सभी से प्रेम से बात करें। इस समय में आपको शारीरिक और मानसिक दोनों प्रकार की चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। बुखार, सिरदर्द और आँखों में संक्रमण जैसी समस्या से गुज़रना पड़ सकता है। परिवार में किसी बात को लेकर झगड़ा भी हो सकता है। घर में परिजनों के बीच सामंजस्य बैठाने का प्रयास करें। इस समय में जीवनसाथी का स्वास्थ्य कुछ नरम-गरम रह सकता है अतः उनका ध्यान रखें। रुपये-पैसों के लेन-देन में सावधानी रखें। मित्रों और रिश्तेदारों से किसी बात पर आपका मनमुटाव हो सकता है, वैसे ऐसी बातों पर अधिक ध्यान न दें। व्यक्तिगत जीवन से जुड़ी समस्याएं आपके लिए मानसिक तनाव का कारण बन सकती हैं। तनाव से बचने के लिए मनोरंजन का सहारा लिया जा सकता है।

उपायः रविवार को गरीब और ज़रुरतमंद मरीज़ों को दवा वितरित करें।

कन्या

सूर्य आपकी ही राशि में गोचर करेगा और यह आपके प्रथम भाव में स्थित होगा। इस समय में धन के लेन-देन में सावधानी रखें और ऐसा कोई काम न करें जिस कारण समाज में आपकी मानहानि का भय हो। इस समय में बुखार, सिरदर्द, अपच और आँख में किसी प्रकार का संक्रमण आदि हो सकता है इसलिए अपना ध्यान रखें। काम के समय आपको आलस आ सकता है और इसी कारण आपके काम में विलम्ब हो सकता है। वहीं किसी विशेष कार्य से आपको घर से दूर जाना पड़ सकता है। तनाव और अहंकार आपके जीवन को प्रभावित कर सकते हैं। विदेशी संबंधों से आपको लाभ प्राप्त हो सकता है।

उपायः रविवार को गुड़ दान करें।

तुला

सूर्य आपकी राशि से द्वादश भाव में रहेगा। इस समय में आप देश-विदेश की यात्रा पर जा सकते हैं। विशेष कार्य के कारण घर से दूर भी रहना पड़ सकता है। आप किसी रमणीय स्थल पर जाने की योजना बना सकते हैं। इस समय अपने स्वास्थ्य का भी पूरा ध्यान रखें। इस समय में आपका खर्चा थोड़ा बढ़ सकता है। अनुचित कार्यों को न करें वरना आपकी मानहानि होना संभव है। अपने विरोधियों से भी सावधान रहें। मित्रों से किसी बात को लेकर मनमुटाव हो सकता है।

उपायः प्रतिदिन श्री हरिवंश पुराण का पाठ करें।

वृश्चिक

सूर्य आपकी राशि से एकादश भाव में भ्रमण करेगा। सूर्य की यह स्थिति आपके लिए सकारात्मक रहेगी। विभिन्न स्रोतों से आपको लाभ प्राप्त होने के योग हैं। इस समय में आपकी आय में वृद्धि हो सकती है और शत्रुओं पर आप विजय प्राप्त करेंगे। दान-धर्म के कार्यों में आपकी रुचि बढ़ेगी। कार्यक्षेत्र में वरिष्ठ कर्मियों का सहयोग और उनका मार्गदर्शन आपको प्राप्त होगा। सूर्य के इस भ्रमण के समय में कोई बड़ी उपलब्धि प्राप्त हो सकती है। पिता के आशीर्वाद और उनकी प्रेरणा से आप जीवन की राह पर आगे बढ़ेंगे।

उपायः किसी तांबे के पात्र में जल लें और उसमें सिंदूर एवं लाल पुष्प डालें, फिर उस जल को सूर्य को चढ़ाएं।

धनु

सूर्य आपकी राशि से दशम भाव में स्थित होगा। इस समय में कार्य क्षेत्र में आपको सकारात्मक परिणाम प्राप्त हो सकते हैं। जैसे- नौकरी में आपकी पदोन्नति और आय में वृद्धि हो सकती है। सरकार की ओर से भी लाभ मिलने के शुभ संकेत हैं। आर्थिक और स्वास्थ्य की दृष्टि से गोचर आपके लिए शुभ होने के संकेत दे रहा है। समाज में प्रभावी व्यक्तियों से आपके संबंध बनेंगे और उनके द्वारा आपको लाभ मिल सकता है। अपने कार्य में आपको सफलता मिलेगी और सामाजिक क्षेत्र में आपका मान-सम्मान भी बढ़ेगा।

उपायः प्रतिदिन तांबे के पात्र से सूर्यदेव को जल चढ़ाएं।

मकर

सूर्य आपकी राशि से नवम भाव में रहेगा। इस अवधि में आपको उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है। अनैतिक कार्यों से दूर रहें अन्यथा समाज में आपका मान-सम्मान गिर सकता है। रूपए-पैसों के लेन-देन में सावधानी रखें अन्यथा आपको धन की हानि हो सकती है। पिता के साथ किसी बात को लेकर मनमुटाव हो सकता है। आपका स्वास्थ्य कुछ कमज़ोर रह सकता है अपने स्वास्थ्य पर ध्यान दें और मानसिक तनाव को अपने ऊपर हावी न होने दें। किसी मुद्दे पर वरिष्ठ जनों से वैचारिक मतभेद हो सकता है। कार्य क्षेत्र में सफलता पाने के लिए आपको कुछ संघर्ष करना पड़ सकता है।

उपायः रविवार के दिन तांबे का पात्र दान में दें।

कुंभ

सूर्य आपकी राशि से अष्टम भाव में गोचर करेगा। इस समय में आपको अकारण ही विवाद का सामना करना पड़ सकता है इसलिए ऐसा कोई भी काम न करें जिससे विवाद की स्थिति पैदा हो। आपके पिछले कार्य का फल आपको इस समय में मिल सकता है। शत्रुओं से आपका सामना हो सकता है। यदि बल और बुद्धि दोनों से शत्रु का सामना करते हैं तो आपको सफलता मिल सकती है। अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें, अन्यथा किसी बड़े रोग का सामना करना पड़ सकता है। अनैतिक कार्य से दूर रहें। इस समय में जीवनसाथी को स्वास्थ्य संबंधी कष्ट हो सकता है। अचानक आने वाले खर्चे भी आपके लिए समस्या का कारण बन सकते हैं खर्च सोच समझकर करें और कुछ बचत पर ज़्यादा ध्यान दें।

उपायः रविवार के दिन बैलों को गुड़ खिलाएं।

मीन

सूर्य आपकी राशि से सप्तम भाव में रहेगा। इस समय में जीवनसाथी से मतभेद हो सकते हैं। अहंकार और क्रोध आपके वैवाहिक संबंध को खराब कर सकता है, क्रोध का त्याग करें। इस समय में जीवनसाथी और संतान का स्वास्थ्य बिगड़ सकता है अतः उन पर भी ध्यान दें। व्यापार के लिए परिस्थितियां आपके लिए अनुकूल नहीं हैं। व्यापारिक साझेदार के साथ किसी तरह का विवाद हो सकता है। यदि आप नौकरी कर रहे हैं तो आपको कोई शुभ समाचार प्राप्त हो सकता है। यात्रा के समय आपको अधिक सावधान रहने की आवश्यकता है। अपच, पेटदर्द, सिरदर्द एवं मानसिक तनाव जैसी समस्याएं आपको घेर सकती हैं, तो सतर्क रहें।

उपायः रविवार को तांबे का दान करें। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

ई-पेपर