comScore

सुबह से ही चटक रही धूप, फिर गलत साबित हुआ मौसम का पूर्वानुमान

सुबह से ही चटक रही धूप, फिर गलत साबित हुआ मौसम का पूर्वानुमान

डिजिटल डेस्क, नागपुर। मौसम विभाग का पूर्वानुमान एक बार फिर उपराजधानी के मौसम को लेकर गलत साबित हुआ। वैसे तो थोड़े बहुत परिवर्तन के साथ पिछले कई दिनों से मौसम दिन चढ़ने के साथ ही बदल रहा है। रविवार को भी सुबह में थोड़ी देर के लिए ठंडी हवाएं चलती रहीं और दोपहर होते-होते बादल छा गए। वैसे, शनिवार की तुलना में रविवार को तापमान 0.4 डिग्री की बढ़त दर्ज की गई। मौसम विभाग ने रविवार को तापमान गिरने और ठंडक होने की संभावना जताई थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। शहर का अधिकतम तापमान 44.0 डिग्री जा पहुंचा। विदर्भ में सबसे गर्म ब्रह्मपुरी (45.6) रहा। सोमवार को सुबह से ही तेज धूप चुभन दे रही है। गर्मी और उमस बरकरार है । इस बीच धूप से बचने के तमाम उपाय किये जा रहे हैं।

पूर्वानुमान गलत साबित
रविवार को भी सूर्य ने मौसम विभाग के पूर्वानुमान को गलत साबित किया और शनिवार की तुलना में तापमान में .4 डिग्री बढ़ कर 43.6 से 44.0 पर पहुंच गया। मौसम विभाग के अनुसार, अगले 24 घंटे में आंशिक बादल छाए रहेंगे और तापमान कम होगा। 48 घंटे में गरज के साथ बारिश की संभावनाएं भी जताई जा रही हैं, लेकिन मौसम के मिजाज को देखते हुए संभावनाओं को लेकर कुछ भी कहना आसान नहीं। चंद्रपुर और वर्धा में उष्ण लहर चलने की जानकारी दी गई है। विदर्भ के बाकी जिलों में भी इसी तरह की गर्मी का प्रकोप है. अकोला, नागपुर, वर्धा, अमरावती, ब्रह्मपुरी एवं चंद्रपुर में पारा चढ़ा हुआ है। ऐसा लग रहा है कि इन शहरों में सुबह से ही धूप इतनी तेज हो जाती है मानो सीधे दोपहर हो गया हो। बताया जा रहा है कि काली मिट्टी होने की वजह से यहां जमीन जल्दी ठंडी नहीं होती है।  साथ ही सीमेंट से बनी सड़कों के कारण भी तापमान में इजाफा हुआ है।  वैसे नागपुर एवं विदर्भ के निवासियों के लिए 45-46 डिग्री तापमान कोई नई बात नहीं है।  देश के इस हिस्से में गर्मी के मौसम में लोगों को अक्‍सर कड़ी धूप का सामना करना पड़ता है। 

कमेंट करें
ESLZ8