comScore

तावडे ने कहा -  नेहरु के खिलाफ लिखने पर जेल भेजे गए थे मजरुह सुल्तानपुरी

तावडे ने कहा -  नेहरु के खिलाफ लिखने पर जेल भेजे गए थे मजरुह सुल्तानपुरी

डिजिटल डेस्क, मुंबई। देशभर के करीब 600 कलाकारों द्वारा भाजपा के खिलाफ वोट करने की अपील की पार्टी ने आलोचना की है। पार्टी के वरिष्ठ नेता व प्रदेश के सांस्कृतिक कार्य मंत्री विनोद तावडे ने कहा कि पिछले पांच सालों में ऐसी कौन सी घटना हुई, जिससे इनकी अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता प्रभावित हुई।  

600 कलाकारों के विरोध पर बयान

सोमवार को भाजपा के प्रदेश कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत में तावडे ने कहा कि सेव डेमोक्रेसी अभियान के तहत लगभग 600 कलाकारों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विरोध में भाजपा को वोट न करने का आह्वान किया है। पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के खिलाफ लिखने पर गीतकार मजरूह सुल्तानपुरी को जेल भेज दिया गया था। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने आपातकाल के समय मशहूर गायक किशोर कुमार के गानों पर पाबंदी लगा दी थी। तावडे ने कहा कि मोदी सरकार में इस तरह की एक भी घटना न होने के बावजूद कलाकारों को ऐसा क्यों लग रहा है कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का हनन हुआ है।

नेहरु के खिलाफ लिखने पर जेल भेजे गए थे मजरुह सुल्तानपुरी

तावडे ने कहा कि यदि कलाकार कांग्रेस की भूमिका और सिद्धांत से सहमत हैं तो वे कहें कि हम कांग्रेस के समर्थन में है। इसको लेकर किसी को कोई आपत्ति नहीं हो सकती है। तावडे ने कहा कि 600 कलाकारों में से असली कलाकार कितने हैं यह पता नहीं है। लेकिन इन्हें क्यों लग रहा है कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की आजादी नहीं है। 


 

कमेंट करें
Sc7ZK