comScore
Dainik Bhaskar Hindi

J&K: 48 घंटे में सेना की दूसरी बड़ी कार्रवाई, 5 आतंकी ढेर

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 27th, 2017 16:36 IST

744
0
0
J&K: 48 घंटे में सेना की दूसरी बड़ी कार्रवाई, 5 आतंकी ढेर

टीम डिजिटल, जम्मू-कश्मीर. कश्मीर घाटी में पाकिस्तान की ओर से एलओसी के रास्ते घुसपैठ की दूसरी बड़ी कोशिश को भारतीय सेना के जवानों द्वारा नाकाम कर दिया गया है। आतंकी एक बार फिर अपने गलत मंसूबों को पूरा करने की कोशिश में थे। तभी जवानों को भनक लग गई और ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए उन्हें मार गिराया गया। 48 घंटे के भीतर भारतीय सेना ने 5 आतंकियों को मार गिराया है, हालांकि दूसरी बार किए गए प्रयास में एक जवान भी शहीद हो गया। 

उरी में पाकिस्तानी आतंकियों ने एक बार फिर से घुसपैठ की नाकाम कोशिश की है. इस घुसपैठ में सेना ने अब तक दो आतंकियों को मार गिराया है. इस गोलीबारी में सेना का एक जवान शहीद हो गया है, जबकि एक जख्मी हो गया. बता दें कि LoC से सटे उरी में 5-6 आतंकियों ने घुसपैठ की कोशिश की थी. इन आतंकियों के पास से सेना ने हथियार बरामद किए गए थे. फिलहाल आतंकियों के साथ गोलीबारी जारी है. किसानों की नापाक हकतों पर जवानों की नजर पहले से थी. जवानों की सतर्कता के चलते ही दोनों ही आतंकियों को मार गिराया गया है. 

जानकारी के अनुसार पाक की ओर से एलओसी के रास्ते घुसपैठ कर रहे आतंकियों को मार गिराया गया है। सेना की ये कार्रवाई उत्तरी कश्मीर के जिले कुपवाड़ा जिले के नौगाम में हुई है। सूत्रों से मिली सूचना के अनुसार नौगाम सेक्टर में आतंकियों के एक दल द्वारा घुसपैठ की कोशिश की गई थी जिसके बाद एलओसी पर सतर्क सेना के जवानों द्वारा संदिग्ध हरकतों के जवाब में कार्रवाई की गई।

भारत में आंतक फैलाने की हर नापाक कोशिश करने वाले पाकिस्तान आतंकी दरगाहों का भी इस्तेमाल करने से पीछे नहीं हट रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई से जुड़े आतंकी दरगाहों पर आए चंदे के पैसे बॉर्डर पर आतंकियों को मुहैया करा रहे हैं।

यहां आपको बता दें कि पाकिस्तानी सेना की ओर से मंगलवार रात से जारी सीमापार गोलीबारी के बाद जम्मू-कश्मीर के माछिल सेक्टर में बुधवार को सेना ने 4 आतंकियों को मार गिराया। सेना को इस सेक्टर में आतंकियों की घुसपैठ की सूचना मिली थी. तलाशी के दौरान कुछ आतंकियों के छिपे होने की आशंका के बाद ऑपरेशन शुरू किया गया. इस दौरान हुई गोलीबारी में चारों आतंकी मारे गए. इस इलाके में घना जंगल है और आतंकी इसी का फायदा उठाकर घुसपैठ करते हैं। 26 मई को इसी सेक्टर में दो और फिर अगले दिन 6 आतंकी मार गए थे।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

ई-पेपर