comScore
Dainik Bhaskar Hindi

# CT2017 - विलेन बनी बारिश

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 27th, 2017 14:54 IST

690
0
0
# CT2017 - विलेन बनी बारिश

टीम डिजिटल,नई दिल्ली. चैंपियंस ट्रॉफी का मजा बरसात के कारण किरकिरा होता दिख रहा है. दरअसल चैंपियंस ट्रॉफी का पांचवां मुकाबला मंगलवार को ऑस्ट्रेलिया और बांग्लादेश के बीच हुआ. मुकाबले के दौरान ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीवन स्मिथ के चेहरे पर तनाव साफ दिख रहा था. इसकी वजह बांग्लादेशी खिलाड़ी नहीं थे बल्कि वजह थी बारिश.

ऑस्ट्रेलिया ने कमाल की गेंदबाज़ी कर बांग्लादेश को 182 पर ऑलआउट तो कर दिया लेकिन जब वो खुद बल्लेबाज़ी करने उतरे तो बारिश की वजह से खेल रद्द करना पड़ा. लेकिन ऐसा नहीं है कि बारिश ने सिर्फ ऑस्ट्रेलिया के मुकाबलों में ही खलल डाला हो, 4 जून को हुए भारत-पाक मैच के बीच में भी बहुत बार बारिश ने अपनी दस्तक दी थी. आपको बता दें कि चैंपियंस ट्रॉफी में बरसात लगातार मजा किरकिरा करती आई है. इस महीने में इंग्लैंड में बारिश की आशंका हर वक्त रहती है और ऐसा पहली बार नहीं हुआ जब चैंपिंयंस ट्रॉफी में बारिश ने मैच के नतीजे तय किए हों.

ऑस्ट्रेलिया बनाम बांग्लादेश
टूर्नामेंट में खिताब की बड़ी दावेदार मानी जा रही ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत बेहद खराब रही. इसकी वजह टीम के खिलाड़ी नहीं बल्कि बारिश थी. चैंपियंस ट्रॉफी में बारिश की वजह से प्रभावित रहना वाला ऑस्ट्रेलिया का यह दूसरा मैच था. न्यूज़ीलैंड के साथ हुए पहले मुकाबले में जहां बारिश ने ऑस्ट्रेलिया को हार से बचाया वहीं बांग्लादेश के खिलाफ जीते जिताए मैच में बारिश ने उनका खेल बिगाड़ दिया. ऑस्ट्रेलिया को दूसरी बार अंक बांटने पड़े और अब इस वर्ल्ड चैंपियन टीम के सामने टूर्नामेंट से बाहर होने का खतरा मंडरा रहा है.

बांग्लादेश को मिला जीवनदान
एक तरफ जहां ऑस्ट्रेलिया को नुकसान हुआ वहीं बांग्लादेश को इस बारिश की वजह से मानो जीवनदान मिला हो. बांग्लादेश अपना पहला मुकाबला इंग्लैंड से हार चुकी थी और अगर ऑस्ट्रेलिया से भी हारती तो टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ता. लेकिन अब बांग्लादेश के पास टूर्नामेंट में बने रहने का एक और मौका है. अगर अगले मुकाबले में बांग्लादेश न्यूज़ीलैंड को हरा देती है तो उसके पास भी सेमीफाइनल में जाने का मौका होगा.

सेमीफाइनल के लिए नहीं है रिजर्व-डे
आईसीसी ने लीग मैचों की तरह सेमीफाइनल के लिए भी कोई दिन रिसर्व नहीं रखा है. अभी तो इस टूर्नामेंट के आधे मैच भी नहीं खेले गए हैं. जैसै-जैसे चैंपियनशिप आगे बढ़ेगी, वैसे ही बारिश का कहर और ज्यादा बढ़ने की आशंका है. जिस तरह इंग्लैंड में लगातार बारिश हो रही है उसे देखकर लगता है कि सेमीफाइनल मुकाबले भी रद्द हो सकते हैं.

इंग्लैंड का मौसम
इंग्लैंड के मेट डिपार्मेंट ने पहले से ही इस महीने में ज़्यादा बारिश का अनुमान लगाया था. ऐसे में सवाल आईसीसी पर उठता है कि ये जानने के बाद भी जून के महीने में इस टूर्नामेंट का आयोजन क्यों हो रहा है. पिछली सीज़न भी फाइनल मैच में बारिश ने खलल डाला था. क्या इसके बावजूद आईसीसी ने सबक नहीं सीखा.

चैंपियंस ट्रॉफी 2013
ऐसा नहीं है कि इस बार ही इंग्लैंड चैंपियंस ट्रॉफी पर इंद्र देवता मेहरबान हैं. इससे पहले 2013 चैंपियंस ट्रॉफी भी इंग्लैंड में ही खेली गई थी. उस वक्त भी बारिश अपने पूरे रंग में थी. इसमें भारत और इंग्लैंड के बीच खेला गया मुकाबला भी शामिल था. मैच को डकवर्थ-लुइस नियम के इस्तेमाल से 20 ओवर का किया था.

चैंपियंस ट्रॉफी और बारिश
2002 के फाइनल मुकाबले में भी बारिश की वजह से दो दिन तक मैच नहीं खेला जा सका था और आखिर में भारत और श्रीलंका को संयुक्त विजेता घोषित करना पड़ा था.

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

ई-पेपर