comScore

पुत्र की चाहत में दो बेटियों के पिता ने की दूसरी शादी, पुलिस ने  मामला रफा-दफा कर दिया

पुत्र की चाहत में दो बेटियों के पिता ने की दूसरी शादी, पुलिस ने  मामला रफा-दफा कर दिया

डिजिटल डेस्क छतरपुर । सिटी कोतवाली थाना अंतर्गत रामपुर गांव निवासी दो बेटियों की पिता द्वारा बेटे की चाहत में दूसरी शादी करने का मामला सामने आया है। शादी के बाद पति ने अपनी पहली पत्नी और बेटियों को घर से निकाल दिया है। जिस पर पत्नी नेे सिटी कोतवाली पहुंचकर पति पर दूसरी शादी करने का आरोप लगाकर कार्रवाई की मांग की है। मगर महिला के आवेदन पर पुलिस द्वारा कार्रवाई करने की बजाय उसे समझौता करने की सलाह दी गई। जिस पर देर शाम महिला और उसके पति का तहसील छतरपुर में स्टॉम्प पर लिखा पढ़ी के बाद समझौता हो गया। 
क्या है पूरा मामला 
महिला प्रेम यादव ने बताया कि उसकी शादी रामपुर निवासी किशना यादव से 10 वर्ष पूर्व हुई थी। उसकी दो बेटियां हैं। मगर मेरे पति को बेटा चाहिए था। जिसके चलते आए-दिन उसके साथ पति मारपीट करता रहा। बेटे की चाहत में पति ने उसे पहले घर से निकाल दिया, फिर 4 अक्टूबर को दमोह निवासी एक लड़की से मंदिर में शादी कर ली। जब प्रेम को दूसरी शादी का पता चला तब वह सिटी कोतवाली में शिकायत करने पहुंची। प्रेम यादव ने बताया कि यहां पुलिस और गांव के लोगों ने समझौता करने में भलाई की बात समझाई। इसलिए वह  अपने पति से स्टॉम्प पर समझौता करने जा रही है। वे उसका खर्च उठाएंगे और बेटियों की शादी भी करेंगे। 
महिला का पति बोला -मुझे बेटा चाहिए 
भले ही जिले में महिला सशक्तिकरण के लिए लाख प्रयास किए जा रहे हों, मगर किशना यादव ने मीडिया से दो टूक शब्दों में कहा कि उसे पुत्र चाहिए। प्रेम यादव से बेटा नहीं हो रहा है इसलिए दूसरी शादी रचाई है। मैं घर में दोनों पत्नियों को एक साथ रखने के लिए तैयार हूं। अगर ये रहना चाहे तो रह सकती है, मगर मुझे बेटा किसी भी स्थिति में चाहिए। 
इनका कहना है
आपके द्वारा मुझे मामले की जानकारी मिली है। मैं परिवार की काउंसलिंग करूंगी। तब ही इस मामले में कुछ कह पाऊंगी। महिला को कानून, विधि या जीवनयापन के लिए जो सहायता चाहिए होगी उसे वनस्टॉप सेंटर उपलब्ध कराएगा। 
-प्राची सिंह, संचालक, वनस्टॉप सेंटर
 

कमेंट करें
JZkBn