comScore
Dainik Bhaskar Hindi

जल्द ही मारुति सुजुकी लॉन्च करेगी इलैक्ट्रिक कार, टोयोटा के साथ हुआ करार

BhaskarHindi.com | Last Modified - December 22nd, 2017 15:39 IST

1.2k
0
0

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। मारुति सुजुकी भारत में अपनी पहली इलैक्ट्रिक कार आने वाले कुछ सालों में लॉन्च करने वाली है। भारत की इस कार निर्माता कंपनी ने टोयोटा के साथ मेमोरेंडर ऑफ अंडरस्टैंडिंग पर दस्तखत किए हैं और कंपनी 2020 तक भारत में अपनी पहली इलैक्ट्रिक कार लॉन्च करेगी। इस करार के हिसाब से दोनों कंपनियां भारतीय ऑटोमोबाइल बाजार में इलैक्ट्रिक वाहन लॉन्च करने के लिए साथ मिलकर काम करेंगी। एग्रिमेंट के हिसाब से दोनों जापानी कंपनियां - टोयोटा और सुज़ुकी दोनों मिलकर भारत में इलैक्ट्रिक वाहन पेश करेंगी जो मारुति सुजुकी के बैनर तले बिकेगी। यह कंपनी के 2030 तक भारत में पूरी तरह इलैक्ट्रिक वाहन उपलब्ध कराने के लक्ष्य का पहला कदम होगा।

मारुति सुज़ुकी इंडिया के चेयरमैन आरसी भार्गव ने इस मामले में कहा कि, “टोयोटा और सुज़ुकी का जॉइंट वेंचर मारुति के लिए फायदेमंद होने वाला है क्योंकि कंपनी ने भारत में इलैक्ट्रिक व्हीकल लॉन्च करने के लिए दोनों कंपनियों का सहारा लिया है। टोयोटा और सुजुकी दोनों के पास इलैक्ट्रिक वाहन टैक्नोलॉजी है, जबकि मारुति के पास ये तकनीक अभी नहीं है। ऐसे में ये जॉइंट वेंचर सभी कंपनियों के लिए फाये का सौदा होगा क्योंकि सबका मकसद भारत में वाहनों को इलैक्ट्रिक बनाना है।” भारत में 2020 तक इलैक्ट्रिक वाहनों के लॉन्च के बारे में पूछने पर भार्गव ने बताया कि, “ये हमारा नहीं बल्कि जापान का वादा है और वो जब भी कुछ कहते हैं करके दिखाते हैं।”

इन इलैक्ट्रिक वाहनों की कीमत के बारे में पूछे जाने पर आरसी भार्गव ने विश्वास दिलाया है कि इस कार के भारत में लॉन्च के शुरुआती दौर में इन कारों की कीमतें ज्यादा होंगी, लेकिन जब इस कार के पुर्जे भारत में बनने लगेंगे तब कार की कीमत कम हो जाएगी। तबतक इन कारों की कीमतें फिलहाल बिक रही कारों से थोड़ी ज्यादा होगी। भार्गव ने यह भी बताया कि कि कंपनी को इन कारों की स्थिति मजबूत करने के लिए इकोसिस्टम बनाने की जरूरत है। यह इकोसिस्टम टोयोटा और सुज़ुकी के जॉइंट वेंचर द्वारा बनाया जाएगा और भारत में मारुति इसे अपने वाहनों में इस्तेमाल करेगी। इन कारों में लगी बैटरी को मारुति सुज़ुकी के गुजरात प्लांट में बनाया जाएगा।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर