comScore
Dainik Bhaskar Hindi

वर्धा रोड के डबल डेकर से मेट्रो को मिलेंगे 32 करोड़, मिलेगा सुपरविजन चार्ज भी

BhaskarHindi.com | Last Modified - October 10th, 2018 14:43 IST

2.1k
0
0
वर्धा रोड के डबल डेकर से मेट्रो को मिलेंगे 32 करोड़, मिलेगा सुपरविजन चार्ज भी

डिजिटल डेस्क, नागपुर। माझी मेट्रो’ का वर्धा रोड स्थित डबल डेकर महामेट्रो के लिए खास है, क्योंकि शीघ्र ही वह धनवर्षा करने वाली है। इस प्रोजेक्ट की लागत 234 करोड़ है और प्रोजेक्ट पूरा होने के बाद नेशनल हाईवे अथॉरिटी सुपरविजन चार्ज के रूप में मेट्रो को 23 करोड़ रुपए देगी। मनीषनगर रेलवे क्रासिंग व कामठी रोड पर होनेवाले कार्य के लिए भी मेट्रो को सुपरविजन चार्ज मिलने वाला है। 

मेट्रो को मिल चुके हैं 265 करोड़ 
वर्धा रोड नेशनल हाईवे अथॉरिटी के अंतर्गत आता है और मेट्रो का रूट भी इसके बीच से होकर गुजर रहा है। ऐसे में मेट्रो ने अजनी से प्राइड हॉटेल तक 3. 4 किमी तक राष्ट्रीय महामार्ग का विकास करने का जिम्मा लिया है। प्लानिंग के अनुसार, डबल डेकर में सबसे ऊपर मेट्रो, उसके नीचे हाईवे और सबसे नीचे लोकल सड़क  होगी। इस कार्य को पूरा करने के लिए व मनीष नगर रेलवे क्रासिंग को जोड़ने के लिए एनएचआई को मेट्रो को 480 करोड़ रुपए देने हैं। अब तक 265 करोड़ मेट्रो को मिल चुके हैं। दिसंबर के आखिर तक इस काम को पूरा करने की जिम्मेदारी मेट्रो ने ली है। लिहाजा, शेष राशि दिसंबर के पहले तक मिलने की अपेक्षा है। प्रोजेक्ट कॉस्ट के अलावा एनएचआई मेट्रो को काम के बदले में 10 प्रतिशत सुपरविजन चार्ज भी देनेवाली है। वर्तमान में मेट्रो एनएचआई के वर्धा रोड के अलावा मनीष नगर रेलवे क्रासिंग व कामठी रोड का भी काम कर ही है। ऐसे में एनएचआई की ओर से मेट्रो को मिलनेवाला सुपरविजन चार्ज किसी धनवर्षा से कम नहीं होगा। 

इस तरह बनेगा टी प्वाइंट 
उक्त कार्य अंतर्गत अजनी चौक से प्राइड तक बन रहे फ्लाईओवर के नेशनल हाईवे से मनीषनगर फ्लाईओवर को जोड़ने पर यह टी प्वाइंट बनेगा। यह फ्लाईओवर रेलवे क्रासिंग के ऊपर होगा। ऐसे में मनीषनगर की दिशा से आनेवाले वाहनधारकों को रेलवे क्रासिंग पर बिना रूके सीधे नेशनल हाईवे से जोड़ा जानेवाला है। यहां रोड अंडर ब्रिज (आरयूबी) का भी निर्माण होनेवाला है। 

मेट्रो विकास में करेंगे खर्च
एनएचआई से हमें सुपरविजन चार्ज मिलेगा, जो प्रोजेक्ट कॉस्ट पर दस प्रतिशत रहेगा। इससे केवल वर्धा रोड डबल डेकर से ही 23 करोड़ मिल सकेंगे। इससे मेट्रो का विकास किया जाएगा। 
अखिलेश हड़वे, डीजीएम, महामेट्रो नागपुर

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें