comScore

मंत्री ने तहसीलदार को किया निलंबित: राजस्व अधिकारियों ने किया विरोध, कहा डायस पर बैठे थे मंत्री

मंत्री ने तहसीलदार को किया निलंबित: राजस्व अधिकारियों ने किया विरोध, कहा डायस पर बैठे थे मंत्री

हाईलाइट

  • अनियमितता पाए जाने पर तहसीलदार को निलंबित करने के कलेक्टर को निर्देश दिए
  • राजस्व अधिकारियों का कहना है डायस पर पहुंच कुर्सी पर बैठे थे मंत्री गोविंद सिंह
  • राजस्व अधिकारी बोले मंत्री का ये व्यवहार अदालत का अपमान है, हड़ताल की धमकी दी

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्य प्रदेश के राजस्व और परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने सीहोर दौरे पर औचक निरीक्षण के दौरान स्थानीय तहसीलदार को निलंबित कर दिया है। दरअसल औचक निरीक्षण के दौरान मंत्री गोविंद सिंह ने तहसील कार्यालय में रखे गए कागजातों और शिकायत रजिस्टर की जांच की और अनियमितता पाए जाने पर कलेक्टर को निर्देश दिया की वो तहसीलदार को निलंबित करें। 

जानकारी के अनुसार गोविंद सिंह राजपूत अचानक सीहोर पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने जांच के दौरान उन्होंने पाया कि 595 प्रकरणों में से 224 प्रकरण लंबे समय से लंबित हैं। उन्होंने जांच में पाया कि तहसील कार्यालय में बड़ी संख्या में अतिक्रमण की शिकायतें आई हैं और 17 में से सिर्फ 4 प्रकरणों का ही निपटारा हो पाया था, जबकि बाकी के 13 शिकायतों पर किसी भी तरह की कोई कार्रवाई नहीं हुई थी।

नहीं कोई रिकॉर्ड
वहीं उन्होंने जब तहसीलदार से सीमांकन,अतिक्रमण, नामांतरण,आर टी आई का रिकॉर्ड और शिकायत का रजिस्टर मांगा तो पता चला कि इस ऑफिस में आज तक ऐसा कोई रजिस्टर बनाया ही नहीं गया। इस पर मंत्री भड़क गए और जब तहसीलदार सुधीर कुशवाह से जानकारी लेने पर संतोषजनक उत्तर नहीं मिल पाया तो मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने मौके पर ही तहसीलदार सुधीर कुशवाह को निलंबित किए जाने के आदेश दे दिए।

कमेंट करें
YNBH4