comScore
Dainik Bhaskar Hindi

1 को मुहर्रम, आपके रोंगटे खड़े कर देगा अलावा कूदने का ये VIDEO

BhaskarHindi.com | Last Modified - September 27th, 2017 10:49 IST

4k
0
0
1 को मुहर्रम, आपके रोंगटे खड़े कर देगा अलावा कूदने का ये VIDEO

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मुहर्रम इस्लामिक कैलेंडर का पहला महीना है। इस वर्ष यह 1 अक्टूबर को है। इस महीने का दसवां दिन बेहद अहम होता है। कहते हैं इसी दिन पैगंबर हज़रत मोहम्मद के नाती हज़रत इमाम हुसैन एक धर्मयुद्ध में शहीद हुए थे। इस दिन को ''अशुरा'' कहा जाता है। इस पर्व का मुख्य आकर्षण बांस की पतली लकड़ियों से बने ढांचे होते हैं जिन्हें ताज़िया कहा जाता है। इसका वर्णन इस्लाम धर्म की धार्मिक पुस्तक हदीस में देखने को मिलता है। 

एक ही दिन दो त्याेहार

मुहर्रम पर्व पर अकीदतमंदों को हुजूम देखने मिलता है। सवारियां निकालने के साथ ही कत्ल की रात अलाव (आग में जलते कोयले) में कूदने की परंपरा है। जो इस बार 9 तारीख (30 सितरंबर) को है। इसी दिन दशहरा भी मनाया जाएगा। यह दोनों ही पर्व पूरे देश में मनाए जाते हैं। जिन स्थानाें पर ये हाेता है वहां हजाराें की संख्या में लाेग जुटते हैं।

खतरनाक होता है दृश्य 

अलाव का दृश्य बेहद खतरनाक होता है कहते हैं सबके लिए ये संभव नही है। जिनके मन में अच्छी आस्था होती है वही इसे कर सकते हैं। अलाव में बाबा के साथ ही सैकड़ों युवक भी प्रतिभागिता दिखाते हैं। यह कार्यक्रम रात को होता है। 

नंगे पैर कूदते हैं 

इस दौरान ज्यादा चमत्कार इस बात का देखने मिलता है कि नंगे पैर अलाव कूदने पर बाबा के पैर ना ही जलते हैं और ना ही छाले आते हैं। वे एक बार नहीं कई बार अलाव कूदते हैं। इसका नजारा आप इस वीडियो में देख सकते हैं। ये दृश्य सचमुच राेंगटे खड़े कर देने वाला हाेता है।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

ई-पेपर