comScore
Dainik Bhaskar Hindi

अभी तक नहीं पहुंचे 17 सौ पोस्टल बैलेट -डाक से आने का इंतजार

BhaskarHindi.com | Last Modified - December 03rd, 2018 16:26 IST

1.7k
0
0
अभी तक नहीं पहुंचे 17 सौ पोस्टल बैलेट -डाक से आने का इंतजार

 डिजिटल डेस्क, शहडोल। मतदान कार्य में लगे हुए कर्मचारी अपने मताधिकार से वंचित न रहें इसके लिए पोस्टल बैलेट का इंतजाम किया गया था और कर्मचारियों को डाक मतपत्र देकर कलेक्ट्रेट में रखे मतपत्र पेटी में डालने का आदेश दिया गया था। आश्चर्यजनक बात यह है कि जारी किये गए 5196 पोस्टल बैलेट में लगभग 1700 मतपत्र अभी तक वापस प्राप्त नहीं हो पाए हैं । इस तरह  मतदान को लेकर शासकीय अधिकारियों-कर्मचारियों की उदासीनता सामने आ रही है। विधानसभा निर्वाचन के दौरान ड्यूटी पर लगे शासकीय अमले को पोस्टल बैलेट का उपयोग करना है। जिनके लिए मतदान तारीख के दो-तीन दिन पहले से वोटिंग की सुविधा उपलब्ध कराई गई थी, लेकिन अभी भी 1700 से अधिक कर्मचारियों ने बैलेट निर्वाचन शाखा तक नहीं पहुंचे हैं। निर्वाचन कार्यालय से हासिल जानकारी के मुताबिक निर्वाचन ड्यूटी वाले अमले को 5196 पोस्टल बैलेट जारी किए गए थे। अब तक 3500 के करीब ही वापस आ पाए हैं।

यह थी व्यवस्था
निर्वाचन ड्यूटी वाले शासकीय अमले को मतदान के लिए पृथक से व्यवस्था की गई थी। मतदान सामग्री वितरण स्थल पॉलीटेक्निक में बॉक्स रखवाया गया था, जिनमें कर्मचारियों को अपने वोट डालने थे। अमले की रवानगी यही हो हुई, इसके बाद भी सभी ने वोट नहीं डाले।

अब करेंगे पोस्ट
जिन कर्मचारियों ने पोस्टल बैलेट का उपयोग नहीं किया है, उनके लिए डाक के माध्यम से व्यवस्था कराई गई है। अपने वोट लिफाफे में बंद कर पोस्ट करना होगा, जो नि:शुल्क होगा। निर्वाचन मीडिया प्रभारी डिप्टी कलेक्टर सतीश राय ने बताया कि डाक से आने वाले पोस्टल बैलेट मतगणना के पूर्व 11 दिसंबर की सुबह 7.59 बजे तक ही स्वीकार किए जाएंगे।मतदान कार्य में लगे हुए कर्मचारी अपने मताधिकार से वंचित न रहें इसके लिए पोस्टल बैलेट का इंतजाम किया गया था और कर्मचारियों को डाक मतपत्र देकर कलेक्ट्रेट में रखे मतपत्र पेटी में डालने का आदेश दिया गया था  ।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें